NIFT के डायरेक्टर पर FIR, वार्डन का आरोप- रात में अकेले रुकने का बनाते थे दबाब

महिला कर्मचारी ने आरोप लगाया है कि NIFT डायरेक्टर ने लॉकडाउन के दौरान रात में आने का दबाव बनाया था और इसका विरोध करने पर उसे वार्डन की नौकरी से भी निकाल दिया गया।

NIFT

भोपाल, डेस्क रिपोर्ट। मध्य प्रदेश (Madhya Pradesh) की राजधानी भोपाल (Bhpal) में नेशनल इंस्टीट्यूट ऑफ फैशन टेक्नोलॉजी (NIFT) के डायरेक्टर सुब्रोतो बिस्वास की मुश्किलें एक बार फिर बढ़ गई है।भोपाल के चूना भट्‌टी थाने में NIFT के डायरेक्टर के खिलाफ छेड़छाड़ और धमकी देने की धाराओं के खिलाफ FIR दर्ज की गई है। महिला कर्मचारी का आरोप है कि वे रात को हॉस्टल में अकेले रुकने का दबाव बना रहे थे, एकांत में कमरे में बुलाते थे।

यह भी पढ़े.. Job Alert: मध्य प्रदेश में इन पदों पर निकली है भर्ती, 31 जुलाई तक कर सकते है आवेदन

मिली जानकारी के अनुसार, महिला कर्मचारी के साथ यह घटना दिसंबर 2020 से जून तक कॉलेज परिसर में हुई थी। NIFT  के डायरेक्टर के खिलाफ छेड़छाड़ के मामले में FIR दर्ज की गई है। NIFT वार्डन रही महिला ने उनके खिलाफ थाने में दर्ज कराई है और उन पर रात में बुलाने का दबाव बनाने को लेकर प्रकरण दर्ज कराया है।महिला ने इसको लेकर वकील के माध्यम से NIFT दिल्ली में इसकी शिकायत की थी। इसके बाद गुरुवार देर शाम महिला ने चूनाभट्‌टी पुलिस थाने में लिखित आवेदन देकर बिश्वास के खिलाफ छेड़छाड़ की शिकायत की।

यह भी पढ़े.. स्कूल शिक्षा विभाग के प्रमुख सचिव समेत 3 अधिकारियों की बढ़ी मुश्किलें, ये है पूरा मामला

महिला कर्मचारी ने आरोप लगाया है कि NIFT के डायरेक्टर ने लॉकडाउन (Lockdown) के दौरान रात में आने का दबाव बनाया था और इसका विरोध करने पर उसे वार्डन की नौकरी से भी निकाल दिया गया।अब इस मामले में पुलिस ने छेड़छाड़ के तहत मामला दर्ज कर लिया है और जांच में जुट गई है।फिलहाल  पुलिस इस मामले की इन्वेस्टिगेशन कर रही है। जांच के दौरान दोषी पाए जाने पर पुलिस चालानी कार्रवाई करेगी।