गोडसे ने गांधी को मारा, लेकिन प्रज्ञा जैसे लोग भारत की आत्मा की हत्या कर रहे : सत्यार्थी

Godse-killed-Gandhi-but-people-like-Pragya-killing-India's-soul

भोपाल। 

महात्मा गांधी के हत्यारे नाथूराम गोडसे को देशभक्त बताने वाले साध्वी प्रज्ञा के बयान पर मचा बवाल थमने का नाम नहीं ले रहा है। हालांकि साध्वी प्रज्ञा ने इस बयान को लेकर माफी मांग ली है वहीं बीजेपी भी इस बयान की निंदा कर रही है । इन सब के बीच देश भर की बड़ी हस्तियां इस मामले में अपने प्रतिक्रिया देकर बीजेपी और प्रज्ञा ठाकुर पर हमला बोल रही हैं। अब नोबेल पुरस्कार विजेता कैलाश सत्यार्थी ने कड़े शब्दों में साध्वी के बयान की निंदा की है।

कैलाश सत्यार्थी ने प्रज्ञा के बयान की कड़ी निंदा करते हुए भाजपा नेतृत्व से प्रज्ञा को बाहर करने की बात कही है। उन्होंने ट्वीट कर कहा है कि ‘गोडसे ने गांधी के शरीर की हत्या की थी, परंतु प्रज्ञा जैसे लोग उनकी आत्मा की हत्या के साथ, अहिंसा,शांति, सहिष्णुता और भारत की आत्मा की हत्या कर रहे हैं।गांधी हर सत्ता और राजनीति से ऊपर हैं।भाजपा नेतृत्व छोटे से फ़ायदे का मोह छोड़ कर उन्हें तत्काल पार्टी से निकाल कर राजधर्म निभाए।’ 

इससे पहले प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी भी साध्वी प्रज्ञा के इस बयान की कड़ी निंदा कर चुके हैं, मोदी ने भी साध्वी के इस बयान पर कहा था कि ‘गांधी जी या गोडसे के बारे में जो बयान दिए गए हैं वो बहुत खराब हैं और समाज के लिए बहुत गलत हैं। ये अलग बात है कि उन्होंने माफी मांग ली है, लेकिन मैं उन्हें मन से कभी माफ नहीं कर पाऊंगा।’ हालांकि बीजेपी नेताओं के दोहरे रुख पर कांग्रेस हमला बोल रही है।

बता दें भोपाल लोकसभा क्षेत्र से भाजपा प्रत्याशी ने बीते दिनों महात्मा गाँधी की हत्या करने वाले नाथूराम गोडसे को राष्ट्र भक्त कहा था, प्रज्ञा द्वारा इस बयान को दिए जाने के बाद से ही उनकी लगातार कड़ी निंदा हो रही है।

गोडसे ने गांधी को मारा, लेकिन प्रज्ञा जैसे लोग भारत की आत्मा की हत्या कर रहे : सत्यार्थी