MP News : आयुष्मान भारत योजना के क्लेम पर बड़ी अपडेट, उप मुख्यमंत्री ने शीघ्र भुगतान करने के दिए निर्देश   

उप मुख्यमंत्री ने आयुष्मान भारत योजना के क्लेम, कुल माँग, विभाग ने प्रतिपूर्ति की गयी राशि और प्रतिपूर्त राशि की उपयोगिता की भी समीक्षा की। उन्होंने निर्देश दिए कि प्रतिपूर्त राशि का कॉलेज और हॉस्पिटल गाइडलाइन अनुसार तत्काल उपयोग सुनिश्चित करें।

Atul Saxena
Published on -
Rajendra Shukla

Ayushman Bharat Scheme : 5 लाख रुपये तक के निःशुल्क इलाज वाली आयुष्मान भारत योजना के भुगतान को लेकर एक बड़ी अपडेट सामने आई है, मध्य प्रदेश के उप मुख्यमंत्री एवं प्रदेश के स्वास्थ्य और चिकित्सा शिक्षा मंत्री राजेंद्र शुक्ला ने भुगतान को लेकर निर्देश दिए हैं उन्होंने विभागीय समीक्षा बैठक में अस्पतालों के क्लेम के जल्दी भुगतान के निर्देश दिए हैं।

उप मुख्यमंत्री राजेंद्र शुक्ला ने की आयुष्मान भारत योजना की समीक्षा 

उप मुख्यमंत्री राजेंद्र शुक्ला ने मंत्रालय वल्लभ भवन से आयुष्मान भारत योजना के मेडिकल कॉलेज और सुपर स्पेशियलिटी हॉस्पिटल के क्लेम और प्रोत्साहन राशि के भुगतान की वीडियो कान्फ्रेसिंग से समीक्षा की। उन्होंने निर्देश दिये कि आयुष्मान भारत योजना के मेडिकल कॉलेज और सुपर स्पेशियलिटी हॉस्पिटल के क्लेम का प्राथमिकता से भुगतान सुनिश्चित करें। क्लेम में दोनों घटक दवा, अन्य कंज्यूमेबल्स और चिकित्सकों की प्रोत्साहन राशि दोनों का भुगतान किया जाये।

राजेंद्र शुक्ला के निर्देश क्लेम का भुगतान समय पर करें 

उप मुख्यमंत्री ने आयुष्मान भारत योजना के क्लेम, कुल माँग, विभाग ने प्रतिपूर्ति की गयी राशि और प्रतिपूर्त राशि की उपयोगिता की भी समीक्षा की। उन्होंने निर्देश दिए कि प्रतिपूर्त राशि का कॉलेज और हॉस्पिटल गाइडलाइन अनुसार तत्काल उपयोग सुनिश्चित करें। बैठक में आयुक्त स्वास्थ्य डॉ सुदाम खाड़े, मिशन संचालक एनएचएम श्रीमती प्रियंका दास, अपर आयुक्त चिकित्सा शिक्षा डॉ पंकज जैन, मुख्य कार्यपालन अधिकारी आयुष्मान भारत योजना सुश्री अदिति गर्ग सहित वीसी के माध्यम से मेडिकल कॉलेज के डीन, कलेक्टर और कमिश्नर रीवा, वरिष्ठ विभागीय अधिकारी उपस्थित थे।


About Author
Atul Saxena

Atul Saxena

पत्रकारिता मेरे लिए एक मिशन है, हालाँकि आज की पत्रकारिता ना ब्रह्माण्ड के पहले पत्रकार देवर्षि नारद वाली है और ना ही गणेश शंकर विद्यार्थी वाली, फिर भी मेरा ऐसा मानना है कि यदि खबर को सिर्फ खबर ही रहने दिया जाये तो ये ही सही अर्थों में पत्रकारिता है और मैं इसी मिशन पर पिछले तीन दशकों से ज्यादा समय से लगा हुआ हूँ.... पत्रकारिता के इस भौतिकवादी युग में मेरे जीवन में कई उतार चढ़ाव आये, बहुत सी चुनौतियों का सामना करना पड़ा लेकिन इसके बाद भी ना मैं डरा और ना ही अपने रास्ते से हटा ....पत्रकारिता मेरे जीवन का वो हिस्सा है जिसमें सच्ची और सही ख़बरें मेरी पहचान हैं ....

Other Latest News