भोपाल/इंदौर।
नए पीसीसी चीफ को लेकर चल रही चर्चाओं के बीच कमलनाथ सरकार में लोक निर्माण मंत्री सज्जन सिंह वर्मा का बड़ा बयान सामने आया है। सज्जन का कहना है कि जल्द ही नए अध्यक्ष को लेकर फैसला होगा। वही उन्होंने किसे पद मिल सकता है इस ओर इशारा करते हुए कहा कि 45 से 50 साल के उम्र के नेता के हाथों में प्रदेशाध्यक्ष की कमान सौंपी जा सकती है ।इससे पहले कैबिनेट मंत्री जीतू पटवारी ने इंदौर में बयान देते हुए कहा था कि सीएम कमलनाथ ही मध्यप्रदेश पीसीसी के चीफ हैं और उनके नेतृत्व में ही अगले निकाय चुनाव होंगे।जीतू के बाद सज्जन के बयान ने फिर सियासी गलियारों में हलचल तेज कर दी है।वही पीसीसी चीफ की उम्र की तरफ इशारा कर दावेदारों की धड़कनों को बढ़ा दिया है। हालांकि नया पीसीसी चीफ कौन होगा ये तो आने वाला वक्त ही बताएगा।

आज इंदौर पहुंचे वर्मा ने पत्रकारों से चर्चा के दौरान कहा कि पीसीसी चीफ का फैसला जल्द होगा।45 से 50 साल के उम्र के नेता के हाथों में प्रदेश कांग्रेस अध्यक्ष पद की कमान सौंपी जा सकती है। अगले पंद्रह दिनों के मध्यप्रदेश कांग्रेस को नया अध्यक्ष मिल सकता है। वही उन्होंने बीजेपी प्रदेशाध्यक्ष पर हमला बोलते हुए कहा कि बीजेपी ने हमेशा से अधर्म की राजनीति की है। बीजेपी के प्रदेश अध्यक्ष राकेश सिंह शीर्ष नेतृत्व के दबाव में है, इसलिए जबलपुर का माहौल बिगाड़ा जा रहा है।

बीते कई महिनों से कांग्रेस में पीसीसी चीफ को लेकर घमासान मचा हुआ है। नेता एक के बाद एक दावेदारी पेश कर पार्टी की मुसीबतें बढ़ा रहे है। इसको लेकर दिल्ली में कई बैठके भी हो चुकी है लेकिन अबतक कोई फैसला नही लिया गया है। हालांकि अध्यक्ष पद के लिए कांग्रेस के दिग्गज नेता ज्योतिरादित्य सिंधिया का नाम तेजी से चल रहा है।समर्थक इसको लेकर भोपाल से दिल्ली तक कई बार मांग उठा चुके है।हाल ही सिंधिया के भोपाल दौरे से भी चर्चाओं का बाजार गर्म है ऐसे में जीतू के बाद सज्जन के पीसीसी चीफ को लेकर बयान देकर सियासी गलियारों में हलचल पैदा कर दी है।सियासी गलियारों में दोनों कैबिनेट मंत्रियों के बयानों से अलग अलग कयास लगाए जा रहे है।