सरकार को घेरने नेता प्रतिपक्ष ने BJP विधायकों को लिखा पत्र, कैबिनेट मंत्री ने कसा तंज

भोपाल।

दिसंबर में एमपी विधानसभा का शीतकालीन सत्र शुरु होने वाला है।इसके पहले विपक्ष की भूमिका निभा रही बीजेपी ने सत्तापक्ष कमलनाथ सरकार को घेरने की तैयारी कर ली है। इसी कड़ी में नेता प्रतिपक्ष गोपाल भार्गव ने अपनी ही पार्टी के विधायकों को पत्र लिखा है और अपने अपने विधानसभा क्षेत्र में जनता से जुड़ी समस्याओं को आगामी विधानसभा सत्र में उठाने के लिए तैयारी की बात कही।भार्गव के इस पत्र पर कैबिनेट मंत्री जीतू पटवारी ने तंस कसा है।

भार्गव ने लिखा है कि जनता की आवाज को विधानसभा में उठाना हम सब जनप्रतिनिधियों का कर्तव्य है। प्रदेश सरकार के 11 माह के कार्यकाल में विभिन्न स्तर पर भ्रष्टाचार चरम सीमा पर पहुंच गए हैं, किसान परेशान हैं, अतिवृष्टि और बाढ़ से कई जिलों में किसानों की खरीफ की फसलें चौपट हो चुकी हैं, लेकिन किसानों को अब तक सरकार की ओर से मुआवजा राशि नुकसान के अनुपात में नहीं मिल पाई है। आगामी दिसंबर माह में विधानसभा का शीतकालीन सत्र आयोजित होने वाला है। इसलिए पार्टी के विधायक अपने अपने क्षेत्रों की विभिन्न समस्याओं को शीतकालीन सत्र के दौरान उठाने की तैयारी कर लें। उन्होंने कहा कि जनता की आवाज को विधानसभा में उठाना हम सब जनप्रतिनिधियों का कर्तव्य है।विभिन्न विभागों और अपने क्षेत्र से जुड़ी जनसमस्याओं को लेकर विधानसभा में तारांकित एवं अतारांकित प्रश्नों को विधानसभा सचिवालय भेजने की तैयारी रखें, ताकि विधानसभा सत्र की अधूसूचना जारी होते ही प्रश्न लगाए जा सकें।

बीजेपी विधायक प्रहलाद लोधी की सदस्यता रद्द होने के बाद नेता प्रतिपक्ष ने अन्य विधायकों से अपराधों से जुड़ी जानकारी भी मांगी है। उन्होंने लिखा है कि यदि आपके ऊपर भोपाल स्थित विशेष न्यायालय में कोई आपराधिक या अन्य प्रकरण विचाराधीन या लंबित हैं तो उसकी अपडेट स्थिति, यदि किसी प्रकरण में आप पर आपराधिक धाराएं लगी हों तो उसकी जानकारी, एफआईआर की फोटोकॉपी समेत आपके प्रकरण की पैरवी करने वाले वकील का नाम और मोबाइल नंबर संबंधि जरूरी दस्तावेज की फोटोकाफी सात दिनों में भिजवा दें। 

भार्गव ने लिखा है कि कानून व्यवस्था से संबंधित कोई भी घटना हुई हो तो साथ ही राजनीतिक द्वेष अथवा भेदभाव पूर्ण कार्रवाई की गई हो तो उसकी भी जानकारी दें।स्थानीय प्रशासन के अधिकारी/कर्मचारियों औ कांग्रेसी कार्यकर्ताओं की ओर से भीजेपी कार्यकर्ताओं को प्रताड़ित किए जाने अथवा उन पर झूठे प्रकरण बनाए जाने संबंधी जानकारी भी दें।शिक्षा, स्वास्थ्य, अवैध उत्खनन, किसानों के ऋण माफी, किसान आत्महत्या, अतिवृष्टि से बर्बाद हुई फसलों की मुआवजा राशि किसानों को न मिलना, बाढ़, पीड़ितों को राहत राशि न मिलने की जानकारी तथा अन्य विषयों से संबंधित जानकारी मेरे निवास पर भेज दें।

कैबिनेट मंत्री ने किया पत्र पर पलटवार

कैबिनेट मंत्री जीतू पटवारी ने नेता प्रतिपक्ष गोपाल भार्गव के पत्र पर पलटवार किया है।जीतू ने लिखा है कि गोपाल भार्गव कांग्रेस को मिले जनता के वोट और सीएम कमलनाथ का अपमान ना करें । कितने भी रिकॉर्ड मंगा लें, बीजेपी के विधायक नाराज होंगे तो कांग्रेस को समर्थन देंगे। प्रहलाद लोधी की सदस्यता बीजेपी के कार्यकाल में बने प्रकरण के चलते ही गई है।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here