मध्य प्रदेश के ऑक्सीजन कंसंट्रेटर रोकने का प्रयास कर रही महाराष्ट्र सरकार : सीएम शिवराज

मुख्यमंत्री शिवराज ने कहा कि महाराष्ट्र सरकार मध्य प्रदेश के ऑक्सीजन कंसंट्रेटर रोकने को लेकर निर्माता कंपनियों पर दवाब बना रही है।

सीएम शिवराज सिंह चौहान

भोपाल, डेस्क रिपोर्ट। मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान (CM Shivraj Singh Chauhan) ने कहा कि महाराष्ट्र सरकार मध्य प्रदेश के ऑक्सीजन कंसंट्रेटर (Oxygen concentrator) रोकने को लेकर दवाब बना रही है। मध्य प्रदेश ने पहले कंसंट्रेटर के आर्डर दिए थे। अब उन्हें न भेजने के लिए महाराष्ट्र सरकार (Maharashtra Government) निर्माता कंपनियों पर दवाब बना रही है। ऑक्सीजन कंसंट्रेटर 2 हजार आ चुके है। अब 650 कंसंट्रेटर और आएंगे। 1300 कंसंट्रेटर जिला स्तर पर कलेक्टर ने और खरीदे है।

यह भी पढ़ें:-मप्र के कांग्रेस विधायक ने दी 2 करोड़ की आर्थिक सहायता, बोले- हर मदद के तैयार हूं

कोरोना संक्रमण से लड़ने के लिए मध्य प्रदेश सरकार लगातार प्रयास कर रही है। इन प्रयासों के तहत सीएम चौहान ने शनिवार को ऑक्सीजन की आपूर्ति के लिए बैठक की। बैठक में ऑक्सीजन लाने से लेकर उसकी सप्लाई तक रणनीति बनाई। इस दौरान राउरकेला, बोकारो, विशाखापत्तनम से और अधिक ऑक्सीजन लाने पर चर्चा की। सीएम शिवराज ने ऑक्सीजन के ट्रांसपोर्टेशन के लिए नितिन गड़करी, पीयूष गोयल से चर्चा की। बैठक में सीएम शिवराज ने कहा कि महाराष्ट्र सरकार मध्य प्रदेश के ऑक्सीजन कंसंट्रेटर रोकने को लेकर दवाब बना रही है।

आक्रामक स्तर पर हो टेस्टिंग: सीएम

वर्तमान व्यवस्था पर मुख्यमंत्री नाराज हुए। सीएम चौहान ने 24 घंटे में रिपोर्ट की व्यवस्था करने को लेकर सख्त निर्देश दिए। शिवराज ने कहा कि छोटे जिलो में रिपोर्ट लेट आ रही है। ये नहीं चलेगा, इसकी व्यवस्था बना कर दे। मंत्री डॉ. प्रभुराम चौधरी, विश्वास सारंग और एसीएस सुलेमान बैठकर तय करें। लैब, निजी अस्पतालों से बात करें कि रिपोर्ट समय पर आए। टेस्ट में कोई कमी न आए, ज्यादा से ज्यादा टेस्ट किए जाए।

हैदराबाद से आएंगे 12 हजार रेमडेसिवीर इंजेक्शन

मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने हैदराबाद की हेटेरो ड्रग्स लिमिटेड (Hetero Drugs Ltd) कंपनी से की बात की है। जिसके बाद अब मध्य प्रदेश को कंपनी 12 हजार रेमडेसेविर इंजेक्शन देगी। साथ ही रविवार को हैदराबाद से 2 हजार इंजेक्शन आएंगे। 3 से 4 दिन में हेटेरो ड्रग्स लिमिटेड कंपनी से 12 हजार इंजेक्शन मिल जाएंगे।