MP College: इन छात्रों का डाटा होगा तैयार, शासन को जल्द भेजा जाएगा ये प्रस्ताव

कोरोना काल में हॉस्टल बंद रहने के कारण छात्रों की फीस माफ करने का प्रस्ताव शासन को यथाशीघ्र भेजा जाये।

homeopathy COLLEGE students

भोपाल, डेस्क रिपोर्ट। मध्य प्रदेश (Madhya Pradesh) के होम्योपैथी छात्रों (homeopathy students) के लिए बड़ी खबर है। नए साल 2022 में रोजगार के कई अवसर खुलेंगे।इस कड़ी में आयुष राज्य मंत्री (स्वतंत्र प्रभार) रामकिशोर कावरे ने अबतक छात्रों को जिन जगहों पर रोजगार मिला है, उनका डाटा तैयार करने, छात्रों की फीस माफ करने का प्रस्ताव शासन को यथाशीघ्र भेजने और फॉर्मेसी मेन्युफेक्चरिंग यूनिट लगाये जाने का प्रस्ताव तैयार करने के निर्देश दिए है।

यह भी पढ़े.. MPPEB पुलिस कांस्टेबल भर्ती परीक्षा 8 जनवरी से होगी शुरू, उम्मीदवार इन बातों का रखें विशेष ध्यान

आयुष राज्य मंत्री (स्वतंत्र प्रभार) रामकिशोर (नानो) कावरे (Ramkishore Kavre) ने अधिकारियों को निर्देश दिये हैं कि प्रदेश में पढ़ने वाले होम्योपैथी छात्रों को रोजगार (Employment) के पर्याप्त अवसर मिलें। इसके लिये उनकी काउंसलिंग की पर्याप्त व्यवस्था की जाए। उन्होंने यह भी कहा कि छात्रों को जिन जगहों पर रोजगार मिला है, उनका डाटा भी तैयार किया जाये। होम्योपैथी के क्षेत्र में नवाचार को प्रोत्साहित किया जाये।

शासकीय स्वशासी होम्योपैथी चिकित्सा महाविद्यालय एवं चिकित्सालय की सामान्य सभा की बैठक में आयुष राज्य मंत्री (स्वतंत्र प्रभार) रामकिशोर कावरे ने कहा कि कोरोना काल में हॉस्टल बंद रहने के कारण छात्रों की फीस माफ करने का प्रस्ताव शासन को यथाशीघ्र भेजा जाये। बैठक में बताया गया कि होम्योपैथी महाविद्यालय भोपाल में 7 विषयों में PHD की शुरूआत की जायेगी। छात्र PHD आयुर्विज्ञान जबलपुर के मार्गदर्शन में करेंगे।अधिकारियों को होम्योपैथी चिकित्सालय में दवाइयों की नियमित व्यवस्था सुनिश्चित करने के लिये नवाचार के तौर पर फॉर्मेसी मेन्युफेक्चरिंग यूनिट लगाये जाने का प्रस्ताव तैयार किये जाने के लिये कहा।

यह भी पढ़े.. Damoh IT Raid :16 बैग बरामद, डिप्टी कमिश्नर ने कहा- कार्रवाई जारी, जब्ती की राशि अभी तय नहीं

राज्य मंत्री  कावरे ने होम्योपैथी महाविद्यालय में जल्द ही म्यूजिक थैरेपी शुरू किये जाने के निर्देश दिये। अधिकारियों को भोपाल आयुष परिसर में रजिस्ट्रार कार्यालय भवन के लिये 3 हजार वर्ग फीट भूमि आवंटित किये जाने और  होम्योपैथी महाविद्यालय (Homeopathy College) में संचालित केंटीन की जाँच करने के भी निर्देश दिये। उन्होंने कहा कि प्रदेश में होम्योपैथी अस्पतालों में काम करने वाले संविदा कर्मचारियों को समय पर वेतन मिले, यह सुनिश्चित किया जाए। शैक्षणिक स्टॉफ समय पर महाविद्यालय पहुँचे, इसकी सतत निगरानी की जाये।

भोपाल के शासकीय होम्योपैथी महाविद्यालय में BHMS की 125 सीट, MD की 69, फैलोशिप की 90 और होम्योपैथी डिप्लोमा की 130 सीट हैं। गुरुवार को होम्योपैथी स्वशासी महाविद्यालय परिसर में 50 लाख रुपये की लागत से तैयार आधुनिक सभाकक्ष का लोकार्पण किया गया। इस सभाकक्ष में वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग की व्यवस्था भी रहेगी।