मप्र में दौड़ी सपा की ‘साइकिल’, 10 साल बाद होगी विधानसभा में एंट्री

samajwadi-party-entry-in-assembly-of-madhya-pradesh-after-10-years-

भोपाल। इस बार का विधानसभा चुनाव भाजपा-कांग्रेस के लिए भले ही कांटे की टक्कर वाला रहा हो, लेकिन सपा के लिए उम्मीद की किरण लेकर आया है। दस सालों बाद यहां सपा के एक उम्मीदवार ने अपनी जगह बनाई और खाता खोला। इससे पहले 2008 में सपा की एक महिला प्रत्याशी ने जीत का परचम लहराया था। अब सरकार कांग्रेस की बन रही है और सालों बाद फिर समाजवादी पार्टी का एक विधायक विधानसभा पहुंचेगा। सरकार बनाने के लिए समर्थन के बाद अब सदन में सपा के विधायक का कांग्रेस को साथ रहेगा|  

दरअसल,इस बार के दिसचस्प चुनाव में एक बड़ा उलटफेर छतरपुर की बिजावर सीट पर देखने को मिला। 2003 से इस सीट पर एक तरफा राज कर रही भाजपा को जबरदस्त शिकस्त मिली। यहां समाजवादी पार्टी के राजेश शुक्ला ने भाजपा के पुष्पेंद्र पाठक को 36 हजार से अधिक वोटो से हराकर इतिहास रच दिया। इससे पहले वर्ष 2008 में मीरा दीपक यादव निवाड़ी से चुनाव जीतकर विधानसभा पहुंची थीं। उसके बाद वर्ष 2013 में सपा का खाता भी नहीं खुल पाया था। दस सालों बाद पहला मौका होगा जब समाजवादी पार्टी का कोई विधायक विधानसभा पहुंचेगा।