-Shocking-figures-in-the-review-of-debt-forgiveness-scheme

भोपाल।
उपचुनाव(BY Election) से पहले प्रदेश(MP) की शिवराज सरकार(Shivraj Sarkar) का पूरा फोकस किसानों(Farmers) पर है। सत्ता में आने के बाद से ही सरकार एक के बाद एक किसानों के हित में फैसले ले रही है। अब कोरोना संकटकाल (Corona Crisis) के बीच जारी लॉकडाउन(Lockdown) के दौरान सरकार ने एक और बड़ा फैसला लिया है ।सरकार ने खरीफ और रबी फसल (Kharif and Rabi crops) की कर्ज चुकाने (Repay debt) की तिथि एक बार फिर आगे बढा दी है।सहकारिता विभाग (cooperative Department) ने इस संबंध में आदेश जारी कर दिए है।

दरअसल,कोरोना महामारी की विषम परिस्थिति को देखते हुए सरकार ने यह निर्णय लिया है। प्रदेश की शिवराज सरकार ने खरीफ और रबी फसलों के लिए सहकारी समितियों (Co-operative societies) से लिए कर्ज को चुकाने की अंतिम तारीख 31 अगस्त तक कर दी है। इससे पहले यह तारीख 31 मई तक बढ़ाई गई थी, जबकि रबी सीजन का कर्ज 15 जून तक चुकाया जाना था।लेकिन अब सरकार ने दोनों फसलों पर किसानों को राहत देते हुए तिथी एक बार फिर आगे बढ़ा दी है।इस निर्णय का लाभ 15 लाख से ज्यादा किसानों को मिलेगा।

बता दे कि खरीफ 2019 और रबी सीजन 2019-20 के लिए सहकारी समितियों से किसानों ने 15 हजार करोड़ रुपये से ज्यादा अल्पकालीन ऋण लिया था, इसे चुकाने के लिए अलग-अलग तारीखें थीं और केंद्र सरकार ने भी इसके लिए 3 महिने का समय देने को कहा था, जिसके बाद प्रदेश सरकार ने यह निर्णय लिया गया है।इससे पहले के लाखों किसानों को फायदा मिलेगा।

Madhy Pradesh: कोरोना दौर में शिवराज सरकार की किसानों को बड़ी राहत