रिजल्ट से पहले महाकाल के दर पर पहुंचे शिवराज, मांगा जीत का आशीर्वाद

shivraj-singh-chouhan-at-mahakal-mandir-before-mp-assembly-elections-result

उज्जैन/भोपाल।

किसकी सरकार बनेगी, कौन प्रदेश का मुखिया बनेगा इस बात का फैसला 11  दिसंबर को होगा।लेकिन इसके पहले जीत का आशीर्वाद लेने राजनैतिक दलों के नेता महाकाल के दर पर पहुंच रहे है। इसी कड़ी में शुक्रवार को प्रदेश के मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान परिवार समेत भगवान महाकाल के दर्शन करने पहुंचे और चौथी बार सरकार बनाने के लिए प्रार्थना की। इस दौरान उन्होंने 3000 रुपए देकर दो रसीद भी कटाई। महाकाल दर्शन के बाद उन्होंने परिसर स्थित माता भद्रकाली, सिद्धिविनायक गणेश, साक्षी गोपाल के दर्शन कर महंत प्रकाशपुरीजी से मुलाकात की ।

मुख्यमंत्री ने परिवार के साथ सबसे पहले भगवान महाकाल का पंचामृत अभिषेक कर महारुरूद्र पूजन किया। उनके साथ पत्नी साधनासिंह और दोनों बेटे भी थे। करीब 20 मिनट तक गर्भगृह में पूजा करने के बाद वे नंदी हॉल में आए और नंदीजी के कान में मन की मुराद मांगी। उसके बाद हरसिद्धि मंदिर और काल भैरव मंदिर में भी दर्शन किए। शिवराज सिंह ने काल भैरव मंदिर में करीब 15 मिनट तक पूजा-अर्चना की और भैरव अष्टमी पर निकलने वाली सवारी में भैरव बाबा की पालकी को कांधा देकर उठाया। मीडिया से चर्चा करते हुए शिवराज ने कहा कि मप्र में पूर्ण बहुमत के साथ भाजपा की सरकार बन रही है।इस दौरान मुख्यमंत्री  ने नियमानुसार 3000 रुपए देकर दो रसीद भी कटवाई।

बता दे कि भाजपा की मुख्यमंत्री शिवराज के नेतृत्व में तीन बार सरकार बन चुकी है और वे चौथी बार सरकार बनाने का दावा कर रही है। वही दूसरी कांग्रेस भी जीत का दावा ठोक रही है। कांग्रेस को पूरा भरोसा है कि इस बार बदलाव होगा और उनकी सरकार बनेगी। हालांकि इस बात क फैसला तो 11  दिसंबर को ही होगा। वही देशभर की भी निगाहें मध्यप्रदेश पर आ टिकी है। जीत किसकी होगी, परिणाम क्या होंगें, कौन सरकार बनाएगा इस बात का फैसला आने वाला वक्त ही बताएगा।