आवाज के हुनर को बनाया ठगी का हथियार, पुलिस के हत्थे चढ़ा शातिर ठग

Avatar
Published on -

Bhopa- police caught thug : मध्यप्रदेश स्टेट सायबर सेल ने भोपाल के ज्वेलर्स से इंकम टैक्स अधिकारी बनकर 5.20 लाख रुपए की ठगी करने वाले राजस्थान के शातिर जालसाज को गिरफ्तार किया है। शातिर जालसाज किसी की भी आवाज कापी कर हूबहू निकाल लेता है और उसने अपने इसी हुनर का इस्तेमाल ठगी करने के लिए किया। उसके खिलाफ देशभर में ठगी के 62 अपराध हैं। हैरत की बात यह है कि ठग पहले भी फ्रॉड करने के मामलें में जेल जा चुका है, लेकिन जेल से बाहर आते ही वह दुबारा यही काम शुरू कर देता था। वह जेल से रिहा होने के बाद ठगी करने लगता है। आरोपी इतना शातिर है कि वह वह ठगी के लिए अधिकारियों के जैसे वीआईपी मोबाइल नंबर का उपयोग करता है। इतना ही नहीं आरोपी 8वीं पास जालसाज राजस्थान के सीएम के बेटे, मंत्रियों, कलेक्टर के नाम पर ठगी कर चुका है।

हो सकते है कई और खुलासे

सायबर सेल की पूछताछ में ठगी के और भी कई मामलों के खुलासे हो सकते हैं। आरोपी सुरेश कुमार घांची उर्फ भैराराम केवल आठवीं तक पढ़ा है, लेकिन अंग्रेजी में लोगों से ऐसे बात करता है कि कोई भी झांसे में आ जाए। वह जयपुर, राजस्थान में 10 से अधिक और राजस्थान में 100 से ज्यादा कारोबारियों से राजनेता, अधिकारी और मजिस्ट्रेट के नाम पर ठगी कर चुका है। वही मध्यप्रदेश में भी वह बीजेपी के कद्दावर नेता कैलाश विजयवर्गीय के बेटे आकाश विजय वर्गीय के नाम पर भी ठगी का प्रयास कर चुका है।

इस तरह ज्वेलर को बनाया था ठगी का शिकार 

एडीजी योगेश देशमुख ने बताया कि भोपाल निवासी ज्वेलर्स ने 14 अप्रैल को लिखित शिकायत की थी। उसने बताया कि तीन साल पहले उसके प्रतिष्ठा न, ठिकानों में इंकम टैक्स की रेड पड़ चुकी है। इसके बाद एक अज्ञात व्यक्ति ने फोन कर बताया कि वह इंकम टैक्स अधिकारी बोल रहा है, जिसने उस समय रेड मारी थी। मामला सेटलमेंट कर लो। ज्वेलर्स घबरा गया। 5 लाख 20 हजार रुपए में डील हुई। आरोपी ने ज्वेलर्स से 9 मार्च 2023 से 19 मार्च 2023 तीन बार में अपने बैंक खाते में 5 लाख 20 हजार रुपए डलवा लिए। बाद में ज्वेलर्स को पता चला कि उसके साथ ठगी हुई है। इंकम टैक्स का मसला अभी भी हल नहीं हुआ है। ठगी का अहसास होने पर ज्वेलर्स ने स्टेट सायबर सेल में शिकायती आवेदन दिया। जांच के बाद पता चला कि यह ठगी रजत नगर रामदेव रोड थाना कोतवाली जिला पाली, राजस्थान ने की है। पुलिस की टीम पाली पहुंची। दो दिन की रैकी कर आरोपी को पकड़ लिया। पुलिस ने उसके पास से मोबाइल फोन , सिम, एक लाख रुपए जब्त किए हैं। एडीजी ने बताया कि आरोपी इसके पहले पूर्व मंत्री, क्लेक्टर, वरिष्ट अधिकारियो के नाम पर लोगों से ठगी कर चुका है। उसके खिलाफ धोखाधडी के 62 अपराध दर्ज हैं।

 

 


About Author
Avatar

Sushma Bhardwaj

Other Latest News