BJP प्रवक्ता डॉक्टर दुर्गेश केसवानी के नेतृत्व में व्यापारियों ने वित्त मंत्री से की मुलाकात

भोपाल, डेस्क रिपोर्ट। कल यानि बुधवार से पूरे देश भर के जूता चप्पल व्यापारियों के द्वारा बंद का आह्वान किया गया है, इस क्रम में मध्य प्रदेश के 30,000 से ज्यादा व्यापारियों ने भी अपना समर्थन इस बंद को दिया है दरअसल  बंद का आह्वान इसलिए किया गया है क्योंकि जूता चप्पल पर अभी तक 5% जीएसटी लगता था, जिसे बढ़ाकर अब 12% कर दिया गया है जो कि 1 जनवरी से पूरे देश भर में प्रभावी हो चुका है इसी बात का विरोध करते हुए व्यापारियों ने बंद का ऐलान किया है।

यह भी पढ़े.. सागर में कोरोना विस्फोट, कैबिनेट मंत्री भी हुए पाजिटिव

मध्य प्रदेश भारतीय जनता पार्टी के प्रवक्ता डॉक्टर दुर्गेश केसवानी के नेतृत्व में समस्त व्यापारियों ने वित्त मंत्री जगदीश देवड़ा से मुलाकात की और अपनी मांग उनके सामने रखी वित्त मंत्री ने व्यापारियों की मांग को सुनते हुए उन्हें आश्वस्त किया है कि उनकी मांगों पर ध्यान दिया जाएगा और इसका सही रास्ता निकाला जाएगा ताकि किसी व्यापारी के साथ अन्याय ना हो।

व्यापारियों की मांग है कि जूते और चप्पल कि ₹500 एमआरपी को 5% जीएसटी तक रखा जाए क्योंकि प्लास्टिक के जूते एवं रबड़ की चप्पल गरीब किसानों के मजदूरों की रोज की जरूरत की चीज है अगर इस पर जीएसटी बढ़ता है तो गरीब किसान और मजदूर पर सीधा इसका असर पड़ेगा व्यापारियों ने मांग की है कि गरीब किसानों एवं मजदूरों की परेशानी का ध्यान रखते हुए ₹500 एमआरपी तक जीएसटी की दर को 5% यथावत रखें एवं बढ़ाई हुई जीएसटी को माफ करें।