मप्र की सियासत में ‘शायरी’ का तड़का, कौन आया हमदर्द बनकर, रह गया राहज़न बनकर.?

820

भोपाल|रविंद्र सिंह राजपूत| मध्य प्रदेश (Madhya Pradesh) में 15 साल बाद सत्ता में लौटी कांग्रेस (Congress) की सरकार जाने के 100 दिन पूरे हो गए हैं| इस दौरान भाजपा (BJP) और कांग्रेस में जमकर वार पलटवार का दौर जारी रहा| अब प्रदेश की सियासत में ‘शायरी’ का तड़का लग गया है| मंगलवार को कांग्रेस के पूर्व राष्ट्रीय अध्यक्ष राहुल गांधी (Rahul gandhi) के एक शायराना ट्वीट पर मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान (Shivraj Singh Chauhan) ने शायराना अंदाज में ही पलटवार किया| इस पर पूर्व मुख्यमंत्री कमलनाथ (Kamalnath) ने भी शायरी का तड़का लगाते हुए शायराना जवाब दिया| अब लोग इन शायरियों के अर्थ खोजने में जुटे हुए हैं| मंत्रिमंडल विस्तार को लेकर मची हलचल के बीच शिवराज का शायराना अंदाज चर्चा में है|

दरअसल, प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के राष्ट्र के नाम दिए संबोधन पर राहुल गाँधी ने ट्वीट किया| इस ट्वीट में उन्होंने लिखा ‘तू इधर उधर की न बात कर, ये बता कि क़ाफ़िला कैसे लुटा, मुझे रहज़नों से गिला तो है, पर तेरी रहबरी का सवाल है’। राहुल गाँधी के इस ट्वीट पर शिवराज सिंह चौहान ने शायराना ट्वीट कर पलटवार किया| उन्होंने लिखा ‘यूं ही दिल खोलकर आप बात करें, कभी अपनों से भी सवाल करें। आपको रहज़नों से गिला है तो, ‘अपने यार रहज़नों’ से आप कुछ तो सवाल करें’।

‘हमदर्द बनकर आये, रह गये राहज़न बनकर’
शिवराज ने एक और ट्वीट कर लिखा ‘आये थे आप हमदर्द बनकर, रह गये केवल राहज़न बनकर। पल-पल राहज़नी की इस कदर आपने, कि आपकी यादें रह गईं दिलों में जख्म बनकर’। शिवराज के इस ट्वीट से चर्चाओं का बाजार गर्म हो गया, इस बात की चर्चा शुरू हो गई कि ‘कौन हमदर्द है जो रह गये केवल राहज़न बनकर’|

कमलनाथ का पलटवार- रहजनों से आपने भी तो ख़ूब यारी निभायी
इस बीच पूर्व सीएम कमलनाथ ने भी इसी अंदाज में शिवराज के ट्वीट पर पलटवार किया| उन्होंने लिखा ‘यार रहजनों से आपने भी तो ख़ूब यारी निभायी है, जा-जाकर उनके आगे खूब झोलियां फैलायी है, उनकी तारीफ़ों में भी जी भरकर क़सीदे गढ़े है , आज अपनो से सवाल की हिम्मत नहीं है आपमें, इसलिये क्या ख़ूब पलटी खायी है आपने’।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here