प्रशासन ने 12 करोड़ की शासकीय जमीन कराई अतिक्रमण से मुक्त, 7 के खिलाफ मामला

छतरपुर, संजय अवस्थी। शहर से सटे सौंरा रोड के समीप मौजूद लगभग 6 एकड़ सरकारी जमीन पर अपना कब्जा बताकर प्लाटिंग करने वाले 7 लोगों के खिलाफ ओरछा रोड थाना पुलिस ने एफआईआर दर्ज कर ली है। इस मामले में थाना प्रभारी माधवी अग्रिहोत्री ने बताया कि आरोपी पुष्पेन्द्र द्विवेदी, राजेन्द्र द्विवेदी, प्रभु द्विवेदी, ब्रजकिशोर द्विवेदी, रामचरण कुशवाहा, सुमित नायक, मोहम्मद अली और शमीम मोहम्मद के विरूद्ध धारा 447, 448 के तहत प्रकरण पंजीबद्ध किया गया है। आरोपियों के विरूद्ध सौंरा पटवारी रामअवतार की शिकायत पर मुकदमा दर्ज किया गया।

उल्लेखनीय है कि गुरूवार को कलेक्टर शीलेन्द्र सिंह के निर्देश पर तहसीलदार संजय शर्मा एवं प्रशासनिक अमले ने सौंरा रोड की इस सरकारी जमीन पर बने पक्के मकानें को जेसीबी से तोड़ा गया था। साथ ही यहां रह रहे गरीबों को नोटिस जारी किए थे। इस सरकारी जमीन की कीमत लगभग 12 करोड़ रूपए है जिसे आरोपी अपना बताकर प्लाटिंग कर रहे थे। इस कार्यवाही के बाद शहर के भू माफियाओं में हड़कंप है।

कलेक्टर बोले जिला छोड़ दें माफिया

सरकारी जमीन पर अतिक्रमण करने वालों के विरूद्ध बड़ी कार्यवाही के बाद कलेक्टर शीलेन्द्र सिंह ने शुक्रवार को अस्पताल निरीक्षण के दौरान मीडिया से बात करते हुए कहा कि राज्य शासन के निर्देश पर चलाया जा रहा माफिया विरोधी अभियान जारी रहेगा। उन्होंने माफियाओं को चेतावनी दी है कि या तो वे सुधर जाएं अन्यथा जिला छोड़ दें। आने वाले दिनों में उनके खिलाफ सख्त कार्यवाही जारी रहेंगी।