एक्शन में एसपी, सहारा में फंसे उपभोक्ताओं के करोड़ों रुपये वापस 

आखिरकार पुलिस के एक्शन का असर हुआ और विगत दो माह में 5617 बैंक खातों में सहारा इंडिया प्राइवेट लिमिटेड के द्वारा 12 करोड़ 75 लाख 23528 रुपये का भुगतान किया गया।

छतरपुर, संजय अवस्थी। चिटफंड कंपनियों (Chit fund companies) में अपनी जीवन भर की गाढ़ी कमाई को फंसा चुके आम उपभोक्ताओं की रकम को वापस दिलाने के लिए लगभग दो माह पहले शुरू की गई पुलिस अधीक्षक सचिन शर्मा (SP Sachin Sharma) की मुहिम आखिरकार रंग लाई है। एसपी की इस मुहिम से जिले के 5617 उपभोक्ताओं को 12 करोड़ 75 लाख 23528 रुपये की राशि वापस मिल सकी है। इतना ही नहीं सायबर फ्रॉड से जुड़े मामलों में भी पुलिस को बड़ी सफलता मिली है  गुम अथवा चोरी हुए लगभग 34 मोबाइल और सायबर फ्रॉड से ठगी गई 4 लाख 40 हजार 150 रुपये  की राशि भी वापस मिल गयी है।

उल्लेखनीय है कि एसपी सचिन शर्मा ने छतरपुर जिले में पदभार संभालने के बाद ही उमरिया जिले के अपने पिछले कार्यकाल की तर्ज पर सायबर फ्रॉड और चिटफंड कंपनियों पर नकेल कसने की मुहिम शुरू कर दी थी। इस मुहिम के अंतर्गत चिटफंड कंपनियों में फंसे हजारों उपभोक्ताओं के रुपयों  को वापस दिलाने के लिए थाना स्तर पर शिकायती आवेदन लेने के लिए पुलिस के द्वारा कैम्प लगाए गए। इतना ही नहीं इन आवेदनों के माध्यम से आगे की कार्यवाही को पूरा करने के लिए एएसपी समीर सौरभ के नेतृत्व में एक 11 सदस्यीय एसआईटी भी गठित की गई। इस टीम के द्वारा जिले भर से लगभग 5617 शिकायती आवेदनों पर लीगल नोटिस जारी किए गए। आखिरकार पुलिस के एक्शन का असर हुआ और विगत दो माह में 5617 बैंक खातों में सहारा इंडिया प्राइवेट लिमिटेड के द्वारा 12 करोड़ 75 लाख 23528 रुपये का भुगतान किया गया।

अब सायबर फ्रॉड पर सख्त हुई पुलिस

मोबाइल पर मेसेज भेजकर, लिंक भेजकर ओटीपी मांगकर, ऑनलाइन खाते से पैसा उड़ाने सहित एटीएम डुप्लीकेसी के माध्यम से लोगों के साथ ठगी करने जैसे सायबर फ्रॉड के अंतर्गत आते हैं। आमतौर पर पुलिस सायबर फ्रॉड से जुड़ी शिकायतों पर गंभीरता नहीं दिखाती। क्योंकि इस फ्रॉड में शामिल अपराधी अन्य राज्यों से ऑपरेट करते हैं। लेकिन सचिन शर्मा के नेतृत्व में सायबर फ्रॉड को लेकर भी पुलिस काफी गंभीर हुई है। पिछले 5 महीने में सायबर फ्रॉड से जुड़ी कई शिकायतों में गंभीरता दिखाते हुए पुलिस ने लोगों के 4 लाख 40 हजार 150 रूपए भी वसूलने में सफलता हासिल की है। इतना ही नहीं पुलिस ने गुम हुए लगभग 34 मोबाइल भी बरामद कर इन मोबाइल मालिकों को सौंपे हैं। उक्त मोबाइल की कीमत भी 8 लाख 33 हजार 812 रुपये बताई गई है।

इनका कहना है –

सायबर फ्रॉड हो या फिर अन्य तरह के अपराध हों। सभी मामलों में पुलिस तत्परता दिखाएगी।  छतरपुर पुलिस आम जनता को सुरक्षा देने और अपराधियों के विरुद्ध  कार्यवाही के लिए संकल्पित है।
सचिन शर्मा, एसपी, छतरपुर

2 COMMENTS

  1. हमारे भी रुपए वापस करवा दो नो नो कमेंट लीव ए रिप्लाई

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here