जमीनी विवाद में एक पक्ष के सैंकड़ों लोगों ने मकान पर धावा बोला

छिंदवाड़ा, विनय जोशी। जिले के सिंगोड़ी पुलिस चौकी क्षेत्र अंतर्गत ग्राम बाबई में जमीनी विवाद इतना बढ़ गया कि एक समुदाय के सैंकड़ों लोगों ने मिलकर एक मकान पर धावा बोल दिया। सैंकड़ों की संख्या में उपद्रवियों के चलते पुलिस ने उन्हें रोकने की कोशिश तो की, लेकिन इतने लोगों पर काबू नहीं कर सकी।

जबलपुर- फर्जी डिग्री से बने हुए थे डॉक्टर, एसटीएफ ने हिरासत में लिया

पिछले 3 महीने से चल रहे एक जमीनी विवाद की सुनवाई नहीं होने से परेशान होकर आदिवासी परिवार ने मंगलवार को मिलकर दूसरे पक्ष के साहू परिवार के घर पर धावा बोल दिया और छत पर चढ़कर विवादित दीवार को ढहा दिया। इस दौरान पुलिस प्रशासन भी मौजूद था लेकिन उपद्रवियों की संख्या ज्यादा होने के चलते पुलिस पूरी तरीके से उन्हें रोक पाने में कामयाब नहीं हुई। दीवार गिराने के बाद जरूर पुलिस ने आदिवासी समुदाय से चर्चा की। फिलहाल पुलिस का कहना है कि मामले की जांच की जा रही है और जो भी तथ्य सामने आएंगे उस हिसाब से कार्रवाई की जाएगी। हमला कर कर दीवार तोड़ने वाले लोगों का कहना है कि वह पिछले तीन महीने से पुलिस और प्रशासनिक अधिकारियों के कार्यालय के चक्कर काट रहे थे लेकिन किसी ने भी उसकी नही सुनी जिस कारण उन्होंने आज यह कदम उठाया। वहीं दूसरे पक्ष के सोनू साहू का कहना है कि वो नियमानुसार ही काम कर रहा था तभी अचानक सैकड़ों लोग आए और घर तोड़ने लगे। पुलिस ने हमें घर के अंदर ही रहने को कहा था जिस कारण हम बाहर नही आये।