Dabra News : बिजली कंपनी के आउटसोर्स व संविदा कर्मचारी की हड़ताल, समर्थन में पहुंचे कांग्रेस विधायक सुरेश राजे

प्रदेश के 52 जिलों सहित भोपाल में हड़ताल कर रहे मप्र बिजली आउटसोर्स कर्मचारी संगठन ने कहा है कि हड़ताल के कारण बिजली सुधार जैसी व्यवस्था चरमरा रही है।

Dabra Strike News : शहर के भितरवार रोड स्थित डिवीजन कार्यालय पर बिजली विभाग में कार्यरत आउटसोर्स और संविदा कर्मचारी की कामबंद हड़ताल लगातार जारी है। हड़ताल पर बैठे कर्मचारियों के समर्थन में कांग्रेस विधायक सुरेश राजे पहुंच गए। हड़ताल के कारण शहरी और ग्रामीण क्षेत्रों में कुछ जगहाें पर विद्युत आपूर्ति बाधित हो रही है। प्रदेश के 52 जिलों सहित भोपाल में हड़ताल कर रहे मप्र बिजली आउटसोर्स कर्मचारी संगठन ने कहा है कि हड़ताल के कारण बिजली सुधार जैसी व्यवस्था चरमरा रही है।

यह है मांग

बता दें कि मध्य प्रदेश संविदा एक ठेका श्रमिक कर्मचारी संघ इंटक के बैनर तले विद्युत कर्मचारी आशीष शर्मा ने सभी आउट सोर्स और संविदा कर्मियों की मांगें रखते हुए कहा कि संविदा कर्मियों का नियमितीकरण होना चाहिए , आउटसोर्स कर्मियों का संविलियन अथवा संविदा पर नियोजित किया जाए पुरानी पेंशन बहाल की जाए, उन्होंने कहा कि अगर सरकार मांगों को जल्द पूरा नहीं करेगी तो यह है अनिश्चितकालीन आंदोलन यूं ही चलता रहेगा।

हड़ताल पर बैठे सभी संविदा कर्मियों के बीच में कांग्रेस विधायक सुरेश राजे ने बीजेपी सरकार पर निशाना साधते हुए कहा कि यह पूरे प्रदेश की समस्या है सरकार को इनकी मांगों पर ध्यान देना चाहिए उन्होंने कर्मचारियों की मांगों को जायज बताते हुए कहा कि विद्युत कर्मचारी चाहे वह आउट सोर्स कर्मी हो या संविदा कर्मी वह बिजली के खंभों पर चढ़कर रात दिन मेहनत करते हैं जिसका उनको पूर्ण लाभ सरकार को देना चाहिए उन्होंने इस मामले को संवेदनशील मामला बताते हुए कहा कि विद्युत कर्मचारियों की कैजुअल्टी होने पर जो सरकारी कर्मचारी को सरकार द्वारा सुविधाएं दी जाती है वह सारी सुविधाएं आउट सोर्स और संविदा कर्मियों को भी मिलनी चाहिए।

साथ ही उन्होंने कहा कि कांग्रेस अभी विपक्ष में है तो क्या हुआ अगर आगामी 2023 के चुनाव में कांग्रेस की सरकार बनती है और उनकी सरकार द्वारा इनकी मांगें नहीं मानी गई तो वह खुद की सरकार के खिलाफ भी बगावत करेंगे।
डबरा से अरुण रजक की रिपोर्ट