डॉक्टरों ने महिला के पेट से निकाला साढ़े सात किलो का ट्यूमर

गणेश अग्रवाल ।दमोह।

जिले की चिकित्सा के क्षेत्र में सर्जन के रूप में विख्यात डॉक्टर सुदेश जैन ने एक बार फिर एक जटिल ऑपरेशन को अंजाम दिया है। यह ऑपरेशन पेट में बने ट्यूमर का है और यह ट्यूमर छोटा नहीं है बल्कि इस ट्यूमर का वजन करीब 7.50 किलो है। डॉक्टर सुदेश जैन व उनकी सहयोगी अलका सोनी ने घंटों की मशक्कत के बाद अपने सहयोगियों के साथ इस ऑपरेशन को पूरा किया।

दरअसल बांसा तारखेडा ग्राम की रहने वाली महिला राजकुमारी बाई करीब 1 साल से इस ट्यूमर के दर्द से परेशान थी। लापरवाही के कारण यह ट्यूमर बढ़कर के 7.50 किलो का हो गया। अनेक स्थानों पर महिला द्वारा जांच कराए जाने के बाद ऑपरेशन की सलाह तो दी गई। लेकिन कई डॉक्टरों ने इस जटिल ऑपरेशन को करने से मना कर दिया। तो डॉक्टर सुदेश जैन के पास पहुंची इस महिला की जांच करने के बाद उन्होंने महिला का ऑपरेशन करने का मन बनाया। फिर क्या था सुदेश जैन ने डॉक्टरों की टीम के साथ बड़ी आंत के साथ चिपक गए ट्यूमर को मशक्कत के साथ निकाल कर बाहर किया।

डॉ सुदेश जैन ने बताया कि इस महिला का कुछ वर्षों पहले बच्चेदानी का ऑपरेशन हो चुका है. वही उसके बाद महिला के पेट में यह ट्यूमर बन गया और लापरवाही के कारण यह ट्यूमर इतना बड़ा हो गया। महिला के परिवार में पति एवं बेटे के नहीं होने के बावजूद उन्होंने अपनी टीम के साथ कठिनाई के दौर में इस ऑपरेशन को सफलतापूर्वक अंजाम दिया है।मालूम हो कि डॉक्टर सुदेश जैन पहले भी पथरी ट्यूमर के ऑपरेशन कर लिम्का बुक ऑफ वर्ल्ड रिकॉर्ड में अपना नाम दर्ज करा चुके हैं। इस बड़े और जटिल ऑपरेशन के सफल होने पर उनकी टीम को शुभचिंतकों ने बधाई भी दी है।