जब तक सूरज चांद रहेगा, आकिल तेरा नाम रहेगा के नारो के बीच अमर शहीद को दी गई अंतिम विदाई

शहीद का शव बुधवार को दमोह पहुंचा। जहां हजारों लोगों ने शहीद को नम आंखों से अंतिम विदाई दी। इस दौरान जब तक सूरज चांद रहेगा आकिल तेरा नाम रहेगा के नारों से समूचा शहर गूंज उठा।

दमोह, आशीष कुमार जैन। अमरनाथ यात्रियों की सुरक्षा के दौरान दमोह के बीएसएफ जवान आकिल खान की करंट लगने से मौत हो गई थी। जिनका शव बुधवार को दमोह पहुंचा। जहां हजारों लोगों ने शहीद को नम आंखों से अंतिम विदाई दी। इस दौरान जब तक सूरज चांद रहेगा आकिल तेरा नाम रहेगा के नारों से समूचा शहर गूंज उठा।

यह भी पढ़ें – राहुल गांधी को भारत जोड़ो, नही कांग्रेस जोड़ो यात्रा निकालनी चाहिए: डॉ नरोत्तम मिश्रा

अंतिम विदाई देने एवं पुष्पांजलि अर्पित करने के लिए हजारों लोगों की भीड़ सुबह से ही जमा रही। दोपहर के समय शहीद को सुपुर्द ए खाक किया गया। इस दौरान केंद्रीय मंत्री प्रहलाद पटेल के प्रतिनिधि, विधायक अजय टंडन, कलेक्टर, एसपी सहित तमाम राजनीतिक दलों के पदाधिकारी एवं जनप्रतिनिधि के साथ प्रशासनिक अधिकारियों की मौजूदगी रही।

यह भी पढ़ें – लॉन्च हुई धांसू मोटर साइकिल, लुक इतना जबरदस्त की हर कोई लेने के लिए तैयार

शहीद अकील को विदाई देने ढेरों की संख्या में लोग पहुंचे। समूचे रास्ते सभी लोग भारत माता की जय, जब तक सूरज चाँद रहेगा आकिल तेरा नाम रहेगा जैसे नारे गगन में गूंजते रहे। सभी लोगों ने नम आँखों से विदाई की। आपको बता दें कि अमरनाथ की यात्रा शुरू हो चुकी है। वह जाने वाले भक्तों को भारतीय सेना संरक्षण देती है।

यह भी पढ़ें – MP की छात्रा ने जाहिर की अजीब ख्वाहिश, शाहरुख और अजय देवगन के हाथ से लेना चाहती है गुटखा

रस्ते में कोई दिक्कत नहीं आये उसका पूरा ख्याल रखती है। अगर मौसम ख़राब है या किसी परिस्थिति की वजह से कोई रुकावट है तो उसका समाधान कर भक्तों को दर्शन करवाती है। उन्ही की सुरक्षा में लगे आकिल कि करंट लगने से मौत हो गयी थी। इस घटना के बाद उनके परिवार वालों को जानकारी दे दी गयी थी। उसी क्रम में आज उनके पार्थिव शरीर को उनके घर लाया गया है।

यह भी पढ़ें – सीएम योगी आदित्यनाथ पर गलत पोस्ट करना 15 साल के लड़के को पड़ा भारी, मिली ऐसी सजा की दोबारा नहीं करेगा पोस्ट

उनके पार्थिव शरीर को पूरे राजकीय सम्मान द्वारा सलामी देते हुए सुपुर्दे खाक किया गया। इस दौरान बड़े नेताओं के साथ साथ अन्य प्रशाशनिक अधिकारी डीएम, एसडीएम, डीएसपी और एसपी जैसे तमाम अधिकारी मौजूद रहे। सभी ने परिवार को ढांढ़स बंधाया। साथ ही आस पास के लोगों ने भी अपनी भावना व्यक्त की।