दमोह में दलित युवक की पिटाई पर सियासत, कांग्रेस विधायक ने कहा- पुलिस वालों पर नहीं हुआ मामला दर्ज तो बैठेंगे धरने पर

दलित युवक की पिटाई पर कांग्रेस विधायक अजय टंडन (Congress MLA Ajay Tandon) सामने आये है और दोषी पुलिस वालों पर मामला दर्ज करने की मांग की है साथी टंडन का कहना है कि अगर प्रकरण दर्ज नहीं होता है तो वह धरने पर जाएंगे।

दमोह, गणेश अग्रवाल। दमोह (Damoh) में मंगलवार रात हुई एक दलित (Dalit ) युवक के साथ मारपीट का मामला तूल पकड़ता जा रहा है। जिस पर अब राजनीतिक सियासत होने लगी है। इस मामले में कांग्रेस विधायक अजय टंडन (Congress MLA Ajay Tandon) सामने आये है और दोषी पुलिस वालों पर मामला दर्ज करने की मांग की है साथी टंडन का कहना है कि अगर प्रकरण दर्ज नहीं होता है तो वह धरने पर जाएंगे।

यह भी पढ़ें…कंगना रनौत काम न होने के कारण नहीं भर पाईं टैक्स, कही ये बात

दरअसल मंगलवार रात को एक दलित युवक ओमकार अहिरवार के साथ पुलिसवाला मारपीट की गई जिसमें ओंकार बुरी तरह घायल हो गया। दमोह पुलिस पर आरोप है कि कोना नियमों के तहत दुकानें बंद कराने गई पुलिस ने ओंकार के साथ मारपीट की थी। इसके पीछे का कारण ओंकार का मास्क ना पहनना बताया जा रहा है। वहीं मारपीट के बाद ओंकार गंभीर रूप से घायल हो गया था। जिसके बाद पीड़ित और उसके परिजन पुलिस थाने में पुलिस वालों की शिकायत करने गए थे ।लेकिन हुए बिना एफ आई आर दर्ज करें वापस लौटा दिया गया। जिसके बाद पीड़ित परिवार देर रात तक अंबेडकर प्रतिमा के सामने धरने पर बैठा रहा। लेकिन किसी ने सुध नहीं ली। जिसके बाद घायल युवक को जिला अस्पताल में दाखिल कराया गया ।

वह इस मामले की जानकारी जैसे ही कांग्रेस विधायक अजय टंडन को लगी तो वह दलित युवक की मदद करने के लिए आगे आए। और विधायक अजय टंडन और जिला कांग्रेस अध्यक्ष मनु मिश्रा बुधवार दोपहर जिला अस्पताल पहुंचे और पीड़ित ओंकार से मुलाकात की। अस्पताल से ही विधायक अजय टंडन ने दमोह एसपी को फोन लगा दिया और दोषी पुलिस वालों पर मामला दर्ज करने की मांग की। इतना ही नहीं आज टंडन ने फोन पर दो टूक कहते हुए एसपी को चेतावनी दी है कि यदि शाम तक मामला दर्ज नहीं हुआ तो वो धरने पर बैठ जाएंगे। वहीं दूसरी तरफ मामले के कई घंटे बीत जाने के बाद भी पुलिस के आला अधिकारी मीडिया के सामने नहीं आ रहे है।

यह भी पढ़ें…दतिया : ट्रामा सेंटर से इंजेक्शन व दवाइयां चोरी करते पकड़ाया प्राइवेट हॉस्पिटल कर्मचारी, कैमरे में कैद हुई घटना