किसान के साथ बेरहमी से मारपीट, इलाज के दौरान मौत, चार आरोपियों पर मामला दर्ज

Youth-attacked-in-capital

दतिया, सत्येन्द्र रावत। एक किसान की बंधक बनाकर लाठी डंडों से मारपीट का मामला सामने आया है। किसान की इतनी बेरहमी से पिटाई की गई कि इलाज के दौरान उसकी मौत हो गई। अपनी मौत से पहले इलाज के दौरान किसान ने पुलिस को बयान दिया था कि चार लोगों ने उसे राजीनामे के बहाने बुलाकर मारपीट की। अब पुलिस ने चारों आरोपियों के खिलाफ मामला दर्ज किया है।

ये भी देखिये – थाने में बंद युवक ने एसआई पर लगाए मारपीट के साथ अन्य गंभीर आरोप

जानकारी के 62 वर्षीय देवेन्द्र जाट भलका ग्राम का रहने वाला किसान था। व्यापारी गिर्राज तिवारी, कृष्णकांत तिवारी, निकुंज शरण तिवारी और विजय तिवारी पर आरोप है कि उन्होने राजीनामा करने के बहाने किसान को बुलाया और फिर व्यापारी ने घर में बंधक बनाकर बेरहमी से पीटा। इन्होने किसान को घर बुलाकर उसे बंधक बनाया और लाठी-डंडों से मारपीट की। इस घटना में गंभीर रूप से घायल किसान को उपचार के लिए इंदरगढ़ स्वास्थ्य केंद्र भेजा गया। हालत बिगड़ने पर उसे ग्वालियर रेफर कर दिया गया। उपचार के दौरान उसकी मौत हो गई। इंदरगढ़ स्वास्थ्य केंद्र में उपचार के दौरान घायल किसान ने पुलिस में बयान दर्ज कराए थे, जिसके आधार पर पुलिस ने चारों आरोपियों के खिलाफ मारपीट का मामला कायम किया है।

इंदरगढ़ टीआई वाइएस तोमर का कहना है कि कल फोन पर सूचना मिली थी कि भांडेर रोड स्थित तिवारी कोल्ड ड्रिंक की दुकान पर झगड़ा हो रहा है। मौके पर पहुंचकर घायल अवस्था में देवेंद्र जाट मिला जिसे इंदरगढ़ स्वास्थ्य केंद्र में भर्ती कराया गया। हालत खराब होने पर उसे ग्वालियर रेफर किया गया था, ग्वालियर में इलाज के दौरान उसकी मृत्यु हो गई। फरियादी मृतक किसान की रिपोर्ट पर चार लोगों के खिलाफ मारपीट की धाराओं के तहत मामला दर्ज किया गया था। पीएम रिपोर्ट के बाद मामले में अन्य धाराएं और बढ़ाई जाएंगी।