अजब गजब : एसपी को आफिस मे आकर दे गया धमकी भरा पत्र, बाबू ने दे दी पावती

देवास, डेस्क रिपोर्ट। देवास में अनोखा मामला सामने आया है जहां पर थाने में जप्त खड़ी अपनी मोटरसाइकिल को छुड़ाने के लिए पुलिस का एक पूर्व सिपाही एसपी को ही धमका गया। हैरत की बात यह है कि धमकी भरे आवेदन पत्र पर एसपी ऑफिस के बाबू ने सील लगाकर उसे पावती भी दे डाली। मामला देवास जिले का है।

बीजेपी के वरिष्ठ नेता गरजे- “ब्राह्मणों का कोई माई का लाल भक्षण नहीं कर सकता”

इस मामलें को पढ़ने और सुनने वाले हैरान रह जाये, दरअसल पुलिस विभाग के भूतपूर्व आरक्षक ने ही देवास एस पी को पत्र लिखा है, पत्र में भूतपूर्व आरक्षक मोहनसिंह ने चेतावनी भरे शब्दो में धमकी दे डाली है, दरअसल मोहन की मोटरसाइकिल किसी मामलें में पुलिस ने जब्त कर ली और सिटी कोतवाली थाने में खड़ी कर दी, मोहन ने गाड़ी छुड़ाने कई प्रयास किये मगर गाड़ी उसे नही मिल सकी, जिसके बाद नाराज मोहन ने देवास एस पी को ही पत्र लिख डाला और उसमें साफ साफ चेतावनी दे डाली, पत्र का विषय ही मोहन ने लिखा की क्रोध अनियंत्रण होने के कारण मानव वध होने की संभावना, वही उसके बाद मोहन ने लिखा कि वह पुलिस विभाग में आरक्षक रह चुका है और उसने रुस्तम जी पुलिस प्रशिक्षण महाविद्यालय में बुनियादी प्रशिक्षण भी प्राप्त किया है, जिसमें हथियार चलाना, खोलना, जोड़ना, शिकारी पोजिशन समेत बहुत कुछ शामिल है और अगर अब उसकी गाड़ी उसे नही दी गई तो वह पुलिस विभाग के सरकारी हथियार जिनमें थ्री नाट थ्री, हैंडग्रेनेड, इंसास, एसएलआर सहित किसी भी हथियार का इस्तेमाल कर अपनी मोटरसाइकिल छुड़ाकर ले जायेगा और अगर इस दौरान कोई जनहानि होती है तो उसकी जिम्मेदार कानून व्यवस्था होगी।

छठ पूजा पर Deepika का डांस वीडियो वायरल, भोजपुरी गाने पर किया Dance

हैरानी की बात है कि इस चेतावनी या फिर यूं कहें कि धमकी भरे आवेदन को रिसीव भी कर लिया गया और पावती भी मोहनसिंग को सौंप दी गई। बुधवार को ही यह आवेदन मोहनसिंग ने दिया है। फिलहाल अब देखना होगा कि इस मामलें में मोहन सिंह पर क्या कार्रवाई होगी।

 

 

अजब गजब : एसपी को आफिस मे आकर दे गया धमकी भरा पत्र, बाबू ने दे दी पावती