लोकायुक्त के शिकंजे में फंसा टीआई, रिश्वत लेते रंगेहाथों गिरफ्तार

धार।

मध्यप्रदेश के धार जिले में लोकायुक्त पुलिस ने बड़ी कार्रवाई को अंजाम दिया है। टीम ने टांडा थाना प्रभारी सुभाष सुलिया को  5 हजार रुपए की रिश्वत लेते हुए रंगे हाथों गिरफ्तार किया है। आरोप है कि  थाना प्रभारी ने यह रकम दर्ज प्रकरण में और नाम बढ़ाने के लिए मांगी थी। यह कार्रवाई लोकायुक्त टीम इंदौर द्वारा की गई है।

मिली जानकारी के अनुसार, मामला जिले के टांडा थाना का है, जहां थाना प्रभारी सुभाष सुल्या ने फरियादी प्रेमसिंह डावर से रिश्वत मांगी थी। जिसके बाद फरियादी प्रेम सिंह ने लोकायुक्त टीम इंदौर को शिकायत की थी कि उसको और उसके साथियों को धारा 354 के आरोपी नहीं बनाए जाने के एवज में थाना प्रभारी सुभाष सुलिया ने 20 हजार रुपए की मांग की है , सुभाष सुलिया पूर्व मे 12 हजार रुपए पहले ले भी चुका है और इसी शिकायत के आधार पर लोकायुक्त टीम इंदौर ने योजनाबद्ध तरीके से कार्रवाई करते हुए रिश्वतखोर थाना प्रभारी सुभाष सुलिया को 5 हजार रुपए की रिश्वत लेते हुए रंगे हाथों गिरफ्तार कर लिया ।

थाना प्रभारी लोकायुक्त की टीम को देखकर घबरा गया। डीएसपी यादव ने बताया कि आरोपित के खिलाफ प्रकरण दर्ज कर लिया गया है।आरोपित को 5 हजार रु की रिश्वत लेते हुए रंगे हाथ पकड़ा है। इस मामले में आगामी कार्रवाई की जा रही है। इस कार्रवाई में थाना प्रभारी लोकायुक्त राजकुमार सहित आरक्षक प्रमोद यादव व कमलेश परिहार की महत्वपूर्ण भूमिका रही।  वहीं लोकायुक्त टीम आगे की कार्रवाई में जुटी हुई है।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here