बीजेपी सांसद पर एफआईआर का विरोध, सिंधिया का पुतला दहन

गुना।  गुना शिवपुरी सांसद डॉ. के पी यादव एवं उनके पुत्र सार्थक यादव पर एफआईआर का मामला गर्माता जा रहा है| गुना में भाजपा और अखिल भारतीय यादव महासभा ने इसका विरोध किया है। मंगलवार को भाजपा ने पूर्व सांसद ज्योतिरादित्य सिंधिया का पुतला जलाया। वहीं यादव महासभा ने ज्ञापन देकर एफआईआर वापस लेने की मांग की।

पुतला दहन के दौरान बड़ी संख्या में पुलिस बल मौजूद रहा। भारतीय जनता पार्टी के जिलाध्यक्ष गजेन्द्र सिंह सिकरवार ने पुतला दहन कार्यक्रम में आरोप लगाया कि साजिशन कांग्रेस के क्षेत्रीय पूर्व सांसद के दबाव में सांसद केपी यादव और उनके बेटे पर मामला दर्ज करवाया है। इस मौके पर भाजपा कार्यकर्ताओं ने सिंधिया के खिलाफ नारेबाजी भी की। उन्होंने ने कहा कि यह विरोधाभास के कारण ही रात एक बजह सांसद पर मामला दर्ज करने का यह कृत्य किया गया है।

भाजपा जिलाध्यक्ष गजेंद्र सिकरवार ने कहा कि कमलनाथ सरकार बदले की भावना से काम कर रही है। पूर्व सांसद सिंधिया अपनी हार को पचा नही पा रहे। सिंधिया के कहने पर ही प्रशासन पर दबाव बनाकर यह केस दर्ज किया है। यदि एफआईआर वापस नहीं ली तो पूरे लोकसभा क्षेत्र में आंदोलन किया जाएगा।  इधर, अखिल भारतवर्षीय यादव महासभा के जिलाध्यक्ष राजू यादव के मुताबिक महासभा ने ज्ञापन देकर कहा है कि राजनीतिक द्वेष की भावना से सांसद पर एफआईआर दर्ज की है। ऐसा लगता है कि कांग्रेस के दिग्गज नेता और कु छ स्वजातीय समाजबंधु गुना-शिवपुरी संसदीय क्षेत्र में भाजपा को मिले जनादेश को पचा नहीं पा रहे हैं। यदि एफआईआर वापस नहीं ली तो महासभा जन आंदोलन करेगी।