स्व. माधवराव Scindia के लिए ज्योतिरादित्य की MP के मंत्री से ये बड़ी मांग

Scindia ने मध्य प्रदेश के औद्योगिक मंत्री राज्यवर्धन सिंह दत्तीगांव (Rajyavardhan Singh Dattigaon)  को पत्र लिखकर मांग की है।

गुना, डेस्क रिपोर्ट। केंद्रीय नागरिक उड्डयन मंत्री ज्योतिरादित्य सिंधिया (jyotiraditya scindia) तीन दिवसीय यात्रा पर मध्यप्रदेश (MP) में है। इस दौरान Scindia ने मध्य प्रदेश के औद्योगिक मंत्री राज्यवर्धन सिंह दत्तीगांव (Rajyavardhan Singh Dattigaon)  को पत्र लिखकर मांग की है। पत्र में उन्होंने स्वर्गीय माधवराव सिंधिया (madhavrao scindia) के नाम पर औद्योगिक पर स्थापित करने की बात कही है। जिसके बाद इस काम को लेकर तेजी देखी जा रही है।

केंद्रीय नागरिक उड्डयन मंत्री ज्योतिरादित्य सिंधिया (Scindia) ने राज्य के औद्योगिक मंत्री राजवर्धन सिंह दत्तीगांव को पत्र लिखकर मांग की है कि उनके दिवंगत पिता माधवराव सिंधिया के नाम पर गुना में एक औद्योगिक पार्क स्थापित किया जाए।सिंधिया ने पत्र के साथ 10 पन्नों का लेआउट साझा किया और कहा कि वह लोगों की लोकप्रिय मांग को संप्रेषित कर रहे हैं। उन्होंने मांग की है कि प्रस्तावित पार्क गुना से करीब आठ किलोमीटर दूर चौरौल गांव के पास बनाया जाए।

सिंधिया ने कहा कि उद्योगपतियों को पार्क में आमंत्रित किया जा सकता है और यह बदले में प्रत्यक्ष और अप्रत्यक्ष रूप से रोजगार के अवसर प्रदान करेगा। लेआउट के अनुसार माधवराव सिंधिया औद्योगिक पार्क को पहले चरण के विकास की लागत के लिए 681 एकड़ और 100 करोड़ रुपये की आवश्यकता है।

Read More: BJP नेता की गोली मारकर हत्या, बाइक सवार ने की ताबड़तोड़ फायरिंग, मौत

सिंधिया ने कहा कि औद्योगिक विकास की दृष्टि से यदि गुना जिला मुख्यालय के नजदीक कोई औद्योगिक पार्क विकसित किया जाए तो यह उद्योग की दृष्टि से बेहद सुखद होगा और उद्योगपतियों को आमंत्रित करेगा। वहीं उन्होंने प्रस्तावित औद्योगिक पार्क के निर्माण से क्षेत्रवासियों को प्रत्यक्ष और अप्रत्यक्ष रूप से रोजगार के अवसर की बात कही है।

जानकारी के मुताबिक सिंधिया द्वारा कई बार इसके लिए प्रयास किया जा चुका है इसके लिए खेजरा गांव के पास फारुख बनाने का प्रस्ताव दिया गया था लेकिन मिलिट्री इलाका होने की वजह से वहां बात नहीं बन पाई जिसके बाद पंचायत मंत्री महेंद्र सिंह सिसोदिया द्वारा इस फारुख के लिए जमीन खोजने का काम जारी था इसी बीच अब एक नया प्रस्ताव सामने आया है।

बता दें कि सिंधिया अपने तीन दिवसीय यात्रा पर ग्वालियर में हैं। उन्होंने कहा कि आरोप लगाना कांग्रेस का काम है लेकिन वह विकास सुनिश्चित करने पर ध्यान दे रहे हैं। केंद्रीय मंत्री के रूप में कार्यभार संभालने के बाद, सिंधिया पहली बार औपचारिक रूप से ग्वालियर-चंबल क्षेत्र का दौरा कर रहे हैं, जिसे उनका गढ़ माना जाता है।

Scindia ने कहा मैं अपना मंत्रालय उचित क्रम में स्थापित करने के बाद क्षेत्र में आया था। आरोप लगाना कांग्रेस का काम है, लेकिन मैं विकास पर ध्यान केंद्रित कर रहा हूं। Scindia समेत उनके 22 विधायकों के साथ पिछले साल कांग्रेस से बाहर हो गए थे। वहीँ केंद्रीय कृषि मंत्री नरेंद्र सिंह तोमर सहित भाजपा नेताओं और मंत्रियों द्वारा ग्वालियर के रास्ते में उनका भव्य स्वागत किया गया।