गुना : महिला की करंट लगने से मौत, पति और बेटा भी झुलसे

जिले के ग्राम बरोदिया में एक महिला की करंट लगने से मौत हो गई। वहीं जब परिजनों के बुलाने पर एम्बुलेंस नहीं आई तो बाइक से अस्पताल लेकर पहुंचे।

गुना, संदीप दीक्षित। जिले के बरोदिया गांव में सोमवार को चली तेजी आंधी के दौरान 11 केवी की लाइन टूटकर गिर गई। इस दौरान खेत में काम कर रही एक महिला बिजली की चपेट में आ गई और करंट लगने से उसकी मौत हो गई। घटना के दौरान महिला को बचाने पहुंचे उसका पति और बेटा भी झुलस गया है। इस घटना के दौरान प्रशासनिक तंत्र की संवेदनहीनता भी सामने आई है।

यह भी पढ़ें:-NSUI जिला अध्यक्ष ने ब्लैकमेलर की सरेराह की पिटाई, संगठन के नाम पर कर रहा था अवैध वसूली

महिला को घायल समझकर बाइक पर लेकर आए परिजनों ने बताया कि उन्होंने सबसे एम्बुलेंस को फोन लगाया। लेकिन काफी देर तक एम्बुलेंस नहीं आई तो उन्होंने बाइक पर भी दोनों घायलों को बिठा लिया। हालांकि तब तक महिला की मौत हो चुकी थी।

महिला की मौत, घायल का इलाज जारी

बताया गया कि बरोदिया गांव में रामसुखी बाई लोधा अपने पति मूलचंद और बेटे हरनाम के साथ खेती संबंधी कार्य कर रही थी। इसी दौरान तेज हवा चलने से 11 केवी लाइन का तार टूट गया और रामसुखी तार की चपेट में आ गई। यह देखते ही सबसे पहले रामसुखी के पति मूलचंद ने उसे बचाने का प्रयास किया और बाद में बेटा हरनाम भी माता-पिता की मदद करने पहुंच गया। इस दौरान रामसुखी बुरी तरह झुल गया। बेटा हरनाम भी घायल हुआ, जबकि मूलचंद को मामूली परेशानी होने पर घर पर ही भेज दिया गया। थोड़ी देर बाद अन्य परिजन मौके पर पहुंचे और एम्बुलेंस को फोन लगाया। मदद नहीं मिलने पर परिजन दो बाइक पर दोनों घायलों को लेकर जिला अस्पताल पहुंचे। जहां चिकित्सकों ने रामसुखी को मृत घोषित कर दिया। वहीं हरनाम सिंह का एक निजी अस्पताल में उपचार जारी है।