वर्षों बाद मिली खुशी कुछ घंटे में दहशत में बदली, डिलेवरी के बाद महिला पॉजिटिव

185

ग्वालियर।अतुल सक्सेना| Gwalior News शहर में पॉजिटिव (Corona Positive) मरीज मिलने की संख्या थम नहीं रही है। पिछले चार दिन में 12 मरीज मिलने के बाद पांचवे दिन भी एक पॉजिटिव पेशेंट सामने आया। खास बात ये है कि ये पेशेंट महिला है जो डिलेवरी के लिए भर्ती हुई थी और सफल ऑपरेशन के बाद जो खुशी उसे मिली थी वो दो दिन बाद चकनाचूर हो गई क्योंकि उसकी कोरोना रिपोर्ट पॉजिटिव आई।

माधौगंज की रहने वाली एक गर्भवती महिला को 5 मई की देर रात उसके परिजनों ने कौल नर्सिंग होम में भर्ती कराया था । महिला को जब लेबर पेन होने लगे तो मजबूरी में डॉक्टर ने 7 मई को उसका सीजेरियन कर डिलेवरी कर दी क्योंकि महिला के पहले दो बच्चे प्रेगनेंसी के दौरान खत्म हो चुके थे इसलिए परिजन कोई रिस्क नहीं लेना चाहते थे। कौल नर्सिंग होम के संचालक डॉ ओ एन कौल के मुताबिक नियमानुसार डिलेवरी से पहले 6 मई की सुबह पेशेंट का कोरोना टेस्ट के लिए सेम्पल लिया गया और प्राइवेट लैब पैथ काइंड भेजा गया । डिलेवरी के बाद जच्चा और बच्चा दोनों स्वस्थ्य बने हैं इसी दौरान 8 मई की देर रात महिला की रिपोर्ट पॉजिटिव आई । जिसकी सूचना सुबह होते ही प्रशासन और स्वास्थ्य विभाग को दे दी गई। और स्वास्थ्य विभाग ने महिला का एक और सेम्पल जांच के लिए लिया।

महिला की रिपोर्ट पॉजिटिव आने के बाद परिजन घबरा गए हालांकि डॉक्टर्स (Doctors) ने कहा कि चिंता वाली बात नहीं है। उधर नर्सिंग होम में भर्ती अन्य मरीज भी दहशत में आ गए। पॉजिटिव मरीज मिलने के बाद प्रशासनिक अधिकारी नर्सिंग होम पहुंचे और उसे नगर निगम की मदद से सेनेटाइज कराया। प्रशासन ने इसके साथ ही आसपास के क्षेत्र को भी सेनेटाइज किया। मरीज की पॉजिटिव रिपोर्ट के बाद प्रशासन ने महिला के माधौगंज ससुराल पक्ष के 9 लोगों को होम क्वारेंटाइन में भेज दिया जिनमें 2 बच्चे भी शामिल हैं जबकि सिकंदर कंपू अजयपुर क्षेत्र में स्थित मायका पक्ष के चार लोगों को होम क्वारेंटाइन में भेज दिया। प्रशासन के लिए चिंता की बात ये है कि महिला लंबे समय से कहीं गई नहीं है इसलिए ये समझ में नहीं आ रहा कि उसे संक्रमण कहाँ से लगा। मालूम चला है कि महिला से मिलने कोई परिजन जयपुर राजस्थान से आया था संभावना जताई जा रही है कि कहीं वो पॉजिटिव ना हो। प्रशासन उसका पता लगा रहा है। बहरहाल दो दिन पहले जिस घर में कई वर्षों बाद खुशी आई थी वो कुछ घंटों में ही दहशत में बदल गई। ये परिवार ईश्वर से सबकुछ ठीक कर देने की दुआ कर रहा है।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here