भिंड बिजली दुर्घटना : ऊर्जा मंत्री ने कनिष्ठ अभियंता और लाइनमेन को किया निलंबित

ऊर्जा मंत्री ने अधिकारियों को चेतावनी दी है कि इस तरह की लापरवाही प्रदेश में कहीं भी होती है तो सम्बंधित अधिकारी, कर्मचारी को बक्शा नहीं जायेगा।

MP NEWS

ग्वालियर, अतुल सक्सेना। ऊर्जा मंत्री प्रद्युम्न सिंह तोमर (Energy Minister Pradyuman Singh Tomar) ने भिंड जिले में हुई बिजली दुर्घटना (Bhind Electricity Accident) में मृत्यु पर गहरा शोक व्यक्त किया है। उन्होंने घटना का संज्ञान लेते हुए प्रकरण में प्रथम दृष्टया दोषी कनिष्ठ अभियंता एवं लाइनमेन को निलंबित (Suspend)  कर दिया है। साथ ही मृतकों के परिवार को 4 लाख रुपये प्रति मृतक के मान से तत्काल आर्थिक सहायता दिलाने और पशुधन हानि पर नियमानुसार आर्थिक सहायता एवं घायलों के इलाज हेतु निर्देशित किया है।

गौरतलब है कि बीती रात भिंड जिले के उमरी विद्युत वितरण केन्द्र अंतर्गत कोक सिंह का पुरा नहर के पास 11 केव्ही सुल्तानपुरा फीडर के एक सेक्शन, जिसको पोल झुकने के कारण बंद रखा गया था, पर अनाधिकृत रूप से किसी व्यक्ति द्वारा जोड़े जाने से उसके संपर्क में बैलगाड़ी में सवार 5 लोग आ गए। इसके कारण 3 लोग जिनमें एक पुरुष, एक महिला एवं उनकी लड़की की मृत्यु हो गई। इस दुर्घटना में अन्य दो व्यक्ति घायल हो गए जिनमें एक पुरुष और एक महिला शामिल है जिनका अस्पताल में इलाज चल रहा है। दुर्घटना में बैलगाड़ी के दोनों बैल की भी मृत्यु हो गयी।

ये भी पढ़ें – आश्रम 3 : नहीं थम रहा विवाद, अब संत समाज ने दी चेतावनी, सांसद प्रज्ञा ने भी जताई आपत्ति, लिखेगी सी एम को पत्र

ऊर्जा मंत्री ने अधिकारियों को चेतावनी दी है कि इस तरह की लापरवाही प्रदेश में कहीं भी होती है तो सम्बंधित अधिकारी, कर्मचारी को बक्शा नहीं जायेगा।

ये भी पढ़ें – नरोत्तम की चेतावनी लोगों का रोष, Dabur ने वापिस लिया एड, माफी मांगी