बासी खाना परोसा तो भड़के नेत्रहीन दिव्यांग, अधीक्षिका को हटाने को लेकर हंगामा

blinding-of-Divyaag-Dissatisfied-with-serving-the-stale-food

ग्वालियर। नेत्रहीन दिव्यांग बच्चों के लिए संचालित किये जाने वाले माधव अंध आश्रम के छात्रों ने आज हंगामा कर दिया। छात्रों ने  आरोप लगाये कि यहाँ उनकी कोई समस्या नहीं सुनी जाती। बीती रात उन्हें ख़राब खाना परोसा गया और उसे जबरन खिलाने का दबाव बनाया गया। 

ग्वालियर के झांसी रोड थाना क्षेत्र में संचालित माधव अंध आश्रम का संचालन इस समय सामाजिक न्याय विभाग के जिम्मे है। आज सुबह यहाँ रहकर पढाई करने वाले नेत्रहीन दिव्यांग छात्र भड़क गए और हंगामा करते हुए आश्रम के बाहर आ गए। छात्रों का कहना था कि बीती रात हमें किसी शादी समारोह से आया खाना परोसा गया । खाने में बदबू आ रही थी और उसका स्वाद भी ख़राब था। छात्रों ने खाने से इंकार किया तो प्रबंधन ने उन पर जबरन वही खाना खाने का दबाव बनाया लेकिन जब उन लोगों ने खाने से बिलकुल इनकार कर दोया तब उन्हें दूसरा खाना दिया गया। 

छात्रों की माने तो आज सुबह आश्रम में नाश्ता ही नहीं बनाया गया। वहां सुबह स्कूल में क्लास भी नहीं लगी। छात्रों का कहना था कि आश्रम अधीक्षिका मंजू सेंगर किसी भी समस्या पर ध्यान नहीं देती। कुछ बोलो तो उन्हें ही डांट देती है। और उनके साथ अभद्र व्यवहार करती हैं। हालाँकि प्रबंधन और मंजू सेंगर ने छात्रों के आरोपों को नकार दिया । आज सुबह नाश्ता नहीं मिलने और क्लास नहीं लगने से आक्रोशित छात्र पहले आश्रम के आंगन में हंगामा करने और फिर आश्रम के बाहर आ गए । उनकी मांग थी कि मंजू मैडम को हटाया जाये। हंगामे की सूचना पर प्रशासनिक अमला मौके पर पहुंचा और उन्होंने बच्चों की मांग पर जाँच का भरोसा देते हुए फिलहाल अधीक्षिका मंजू सेंगर को आश्रम से हटा लिया तब मामला शांत हुआ।

बासी खाना परोसा तो भड़के नेत्रहीन दिव्यांग, अधीक्षिका को हटाने को लेकर हंगामा