Corona Patient को चारदीवारी लांघना पड़ा भारी, हवालात भेजने की तैयारी, आंकड़ा 181 पहुंचा

जिला प्रशासन ने ग्वालियर के लोगों के लिए खतरा बन सकने वाले ऐसे ही दो कोरोना पॉजिटिव मरीजों के खिलाफ पुलिस में एफआईआर (FIR) दर्ज कराई है।

ग्वालियर, अतुल सक्सेना। बढ़ते कोरोना मरीजों (Corona Patient) की संख्या के बीच जिला प्रशासन के रोकथाम के प्रयासों को कोरोना पेशेंट (Corona Patient) ही पलीता लगा रहे हैं। जिला प्रशासन ने ग्वालियर के लोगों के लिए खतरा बन सकने वाले ऐसे ही दो कोरोना पॉजिटिव मरीजों (Corona Patient) के खिलाफ पुलिस में एफआईआर (FIR) दर्ज कराई है। उधर मंगलवार को जारी मेडिकल बुलेटिन में कोरोना पॉजिटिव मरीजों (Corona Patient) की संख्या 181 सामने आई है।

जिला प्रशासन कोरोना मरीजों की बढ़ती संख्या को लेकर बहुत सख्त है , सोमवार को ग्वालियर आये ऊर्जा विभाग के प्रमुख सचिव एवं ग्वालियर में कोरोना की मॉनिटरिंग के लिए नियुक्त प्रभारी सचिव संजय दुबे ने प्रशासनिक  अधिकारियों को सख्ती करने के निर्देश दिए। उन्होंने मास्क नहीं लगाने वाले दुकानदारों की दुकाने  सील करने और उनपर fir करने के निर्देश दिये । प्रमुख सचिव संजय दुबे ने मास्क नहीं पहनने वाले नागरिकों पर भी सख्ती करने के निर्देश दिए, बावजूद इसके लोग कोरोना गाइडलाइन  का उल्लंघन कर रहे हैं।

ये भी पढ़ें – MP में हो सकता है 2 दिन का लॉकडाउन, जिला आपदा प्रबंधन समूह लेगा अंतिम फैसला

कोरोना पॉजिटिव मरीज बाहर घूमते मिले, प्रशासन ने कराई FIR

सख्ती के निर्देश के बाद जिला प्रशासन के आला अधिकारी अब गाइडलाइन  का सख्ती से पालन कराने लगे हैं इसका उदाहरण मंगलवार को देखने को मिला जब दो कोरोना पॉजिटिव मरीजों (Corona Patient)  को होम आइसोलेशन के नियम को तोडना महंगा पड़ा। CMHO डॉ मनीष शर्मा के कार्यालय से जारी  जानकारी के मुताबिक थाटीपुर निवासी एक मरीज 3 अप्रैल को  कोरोना पॉजिटिव आया था उसे गाइडलाइन के मुताबिक होम आइसोलेशन में रखा गया था लेकिन वो 6 अप्रैल को CMHO ऑफिस में घूमता पाया गया। इन्होने आमजन  के जीवन से  खिलवाड़ किया।  जिसकी सूचना पर इंसिडेंट कमांडर एचबी शर्मा ने पुलिस थाने में उसके खिलाफ FIR दर्ज करवाई।  इसी तरह कालपी ब्रिज मुरार निवासी एक व्यक्ति की रिपोर्ट 26 मार्च को कोरोना पॉजिटिव आई थी।  27 मार्च को उसने सिविल अस्पताल हजीरा में वैक्सीनेशन कराया जब इनकी कंट्रोल कमांड सेंटर से मोबाइल लोकेशन ट्रेस की गई तो वो जयारोग्य अस्पताल में पाई गई। टीम ने घर जाकर कन्फर्म किया तो वे मरीज घर पर नहीं मिला। इन्होने भी आमजन के जीवन से खिलवाड़ किया उसके बाद इंसिडेंट कमांडर नवनीत शर्मा ने मरीज के खिलाफ FIR कराई।

सात दिन से आंकड़ा शतक के पार, अब पहुंचा 181        

प्रदेश के दूसरे शहरों के साथ साथ ग्वालियर में भी कोरोना ने रफ़्तार पकड़ ली है। यहाँ पिछले एक सप्ताह से कोरोना मरीजों का आंकड़ा शतक को पार कर रहा है, आज मंगलवार को तो ये दोहरे शतक के नजदीक पहुँच गया।  31 मार्च को शुरू हुए शतक के सिलसिले के पहले दिन 120 कोरोना पॉजिटिव मरीज (Corona Patient)  सामने आये, 1 अप्रैल को 129 जिसमें 8 रिपीट थे यानि आंकड़ा फिर 120, 2 अप्रैल को फिर 120 कोरोना पॉजिटिव मरीज (Corona Patient) , 3 अप्रैल को भी 120 कोरोना पॉजिटिव मरीज (Corona Patient)  सामने आये।  लगातार पांच दिनों तक  120 कोरोना पॉजिटिव मरीज (Corona Patient) आने के बाद तमाम तरह की चर्चाएं शहर में शुरू हो गई।  इसी बीच 5 अप्रैल को कोरोना पॉजिटिव मरीजों (Corona Patient) का आंकड़ा अचानक  146 हो गया और आज 6 अप्रैल को ये दोहरे शतक के नजदीक 181 पर पहुंच गया।