देश के एथलीटों में अपार संभावनाएं : पीटी ऊषा

ग्वालियर। उड़नपरी के नाम से  मशहूर अंतरराष्ट्रीय एथलीट और भारत को ओलम्पिक में 100 मीटर दौड़ में पहला  मैडल दिलवाने वाली पीटी ऊषा आज ग्वालियर पहुंची। ग्वालियर के आईटीएम विश्वविद्यालय में बतौर अतिथि शामिल होने आईं पीटी ऊषा ने महाराजपुरा एयरपोर्ट पर मीडियाकर्मियों से बातचीत करते हुए कहा कि वे 1980 के बाद आज ग्वालियर आई हैं। उस समय माधवराव सिंधिया के बुलावे पर यहां आई हैं। देश में खेलों के बारे में चर्चा करते हुए उन्होंने कहा कि अभी एथलीट  के क्षेत्र में अंतरराष्ट्रीय स्तर पर भारत की 48 वी रैंक है। इसे और ऊपर ले जाने की जरूरत है । अब तक दूसरी पीटी ऊषा तैयार नहीं होने के सवाल पर उन्होंने कहा कि अब नई पीढ़ी तैयार हो रही है और सरकार का भी तुलनात्मक दृष्टि से खेलों के प्रति सहयोगात्मक रवैया बन रहा है। हमें ग्रास रुट लेवल पर काम करने की जरूरत है जिससे और पीटी ऊषा उभर कर देश में सामने आएंगी।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here