पूर्व मंत्री ने PFI पर प्रतिबंध का स्वागत किया, लंपी वायरस को लेकर सरकार को घेरा

पूर्व मंत्री लाखन सिंह ने पूर्व मुख्यमंत्री एवं राज्यसभा सांसद दिग्विजय सिंह के राष्ट्रीय अध्यक्ष पद के नामांकन भरने के फैसले को मध्य प्रदेश के लिए एक अचीवमेंट बताया है।

ग्वालियर, अतुल सक्सेना। लंपी वायरस (lumpy virus) को लेकर कांग्रेस विधायक एवं मध्य प्रदेश सरकार के पूर्व पशुपालन मंत्री लाखन सिंह (Congress MLA Lakhan Singh) ने शिवराज सरकार (Shivraj Government) पर लापरवाही के आरोप लगाए हैं। उन्होंने  मीडिया से बात करते हुए कहा कि उन्होंने तो बहुत पहले ही मुख्यमंत्री और पशुपालन मंत्री को पत्र लिखकर उचित एक्शन और तैयारी का निवेदन किया था लेकिन सरकार ने उसपर ध्यान ही नहीं दिया। दूसरी तरफ कांग्रेस नेता ने PFI पर प्रतिबंध लगाने के केंद्र सरकार के फैसले का स्वागत किया।

कांग्रेस का राष्ट्रीय अध्यक्ष कौन होगा ये अभी तय नहीं है लेकिन उससे पहले ही नेताओं के बीच खींचतान साफ दिखाई दे रही है। राजस्थान में मचे घमासान के बाद मुख्यमंत्री अशोक गहलोत का नाम रेस से बाहर होने के बाद एक नाम मध्य प्रदेश से कांग्रेस अध्यक्ष की दौड़ में शामिल हो गया है ये नाम है मध्य प्रदेश की राजनीति के चाणक्य कहे जाने वाले “राजा साहब” दिग्विजय सिंह का। वे कल नामांकन भरेंगे , दिग्विजय सिंह के इस फैसले से उनके समर्थक बहुत खुश हैं।

ये भी पढ़ें – महिलाओं की सुरक्षा के मसले पर परिवहन विभाग का स्पीड ब्रेकर, मुख्यमंत्री से हुई शिकायत

ग्वालियर जिले की भितरवार विधानसभा से कांग्रेस विधायक और कमलनाथ सरकार के पूर्व मंत्री लाखन सिंह ने मीडिया से बात करते हुए पूर्व मुख्यमंत्री एवं राज्यसभा सांसद दिग्विजय सिंह के राष्ट्रीय अध्यक्ष पद के नामांकन भरने के फैसले को मध्य प्रदेश के लिए एक अचीवमेंट बताया है।

ये भी पढ़ें – उपभोक्ता ध्यान दें, अब इससे ज्यादा नहीं ले सकेंगे LPG Gas Cylinder, सरकार ने नियमों में किया बड़ा बदलाव

राजस्थान में मचे घमासान के सवाल पर पूर्व मंत्री लाखन सिंह ने कहा कि ये हमारे घर का मामला है और जब परिवार बड़ा होता है तो छोटी मोटी बातें होती रहती है मुझे लगता है कि आज इसका हल निकल आएगा। मध्य प्रदेश में कांग्रेस  की सरकार के हश्र से जुड़े सवाल पर कमलनाथ सरकार के पूर्व कैबिनेट मंत्री लाखन सिंह ने कहा कि मध्य प्रदेश में कुछ जयचन्दों के कारण ऐसा हुआ था लेकिन राजस्थान में ऐसी स्थिति नहीं बनेगी।

ये भी पढ़ें – हरे निशान के साथ खुला Share Market लाल निशान पर बंद, देखें Sensex व Nifty का हाल

PFI पर लगाए गए प्रतिबंध का स्वागत करते हुए कांग्रेस नेता ने कहा कि जो भी संगठन देश के लिए खतरा हो, समाज में उन्माद फैलाएं उनके खिलाफ कार्यवाही अवश्य होनी चाहिए। पूर्व मंत्री ने लंपी वायरस को लेकर मध्य प्रदेश की शिवराज सरकार पर निशाना साधा है।

 ये भी पढ़ें – Rewa : शिक्षक ने की छात्र की बेरहमी से पिटाई, वीडियो सोशल मीडिया पर वायरल, जांच में जुटी पुलिस

उन्होंने कहा कि जब लंपी वायरस राजस्थान में आया था तभी मैंने सीएम शिवराज सिंह चौहान (CM Shivraj Singh Chauhan) को पत्र लिखा था, पशुपालन मंत्री को भी पत्र लिखा था लेकिन उन्होंने इसपर ध्यान नहीं दिया। पूर्व मंत्री लाखन सिंह (Former Minister Lakhan Singh) ने कहा कि मैं आज ही एक गांव में होकर आया हूँ वहां मैंने खुद लंपी वायरस से पीड़ित गाय देखीं, किसान परेशान है लेकिन सरकार को कोई चिंता नहीं है।

मध्य प्रदेश सरकार के पूर्व पशुपालन मंत्री लाखन सिंह (former animal husbandry minister) ने कहा कि लंपी वायरस मध्य प्रदेश (lumpy virus MP) में पूरी तरह फ़ैल चुका है, यदि सरकार ने इसपर ध्यान नहीं दिया तो ये महामारी का रूप ले लेगी। सरकार के टीकाकरण के दावों को खोखला बताते हुए पूर्व पशुपालन मंत्री ने कहा कि हमारे किसान बाजार से अपने पैसों से खरीदकर इंजेक्शन और दवाएं ला रहे हैं, सरकार की बात बिलकुल झूठी है, मैंने तो ये लाइव भी किया था।