Gwalior News : “स्कूल चलें अभियान” का जिला स्तरीय कार्यक्रम 18 जून को उत्कृष्ट विद्यालय में होगा, तीन दिन का ऐसा रहेगा शेड्यूल

सके अतिरिक्त समाज के अन्य इच्छुक व्यक्ति जैसे जन प्रतिनिधि, संचार मित्र, सामाजिक संगठनों से जुडे व्यक्ति, सामाजिक कार्यकर्ता, उन्नत किसान, अभिनेता, कलाकार, खिलाड़ी, उद्योगपति, व्यवसायी अथवा अधिकारी भी अपनी पंसद के किसी एक स्कूल में जाकर विद्यार्थियों का मार्गदर्शन और सहयोग कर सकेंगे।

Atul Saxena
Published on -
school chalo Abhiyan
Gwalior News : नए शिक्षण सत्र में स्कूलों में बच्चों को प्रवेश दिलाने के लिए प्रदेश में 18 जून से तीन दिवसीय  “स्कूल चलें हम अभियान 2024″  शुरू किया जा रहा है। मुख्यमंत्री डॉ मोहन यादव के मुख्य आतिथ्य में राज्य स्तरीय शुभारंभ कार्यक्रम शासकीय सुभाष उत्कृष्ट उच्चतर माध्यमिक विद्यालय भोपाल में सुबह 10 बजे से आयोजित होगा। ”प्रवेशोत्सव” कार्यक्रम में मुख्यमंत्री डॉ. मोहन यादव नवप्रवेशी विद्यार्थियों का शाला में स्वागत करेंगे। कार्यक्रम में जनजातीय कार्य मंत्री श्री विजय शाह एवं स्कूल शिक्षा मंत्री श्री उदय प्रतापसिंह के साथ ही स्थानीय जन प्रतिनिधि भी उपस्थित रहेंगे। इस कार्यक्रम का लाइव प्रसारण वेबकास्ट सहित अन्य संचार माध्यमों से किया जायेगा।
इसी क्रम में ग्वालियर का जिला स्तरीय कार्यक्रम मुरार स्थित उत्कृष्ट उच्च्तर माध्यमिक विद्यालय में आयोजित होगा। कार्यक्रम में जिला पंचायत अध्यक्ष श्रीमती दुर्गेश कुँवर सिंह जाटव एवं जिला पंचायत उपाध्यक्ष श्रीमती प्रियंका सतेन्द्र सिंह सहित अन्य जनप्रतिनिधिगण भाग लेंगे। जिला शिक्षा अधिकारी  अजय कटियार ने बताया कि इस आयोजन में सीधे प्रसारण के जरिए राज्य स्तरीय कार्यक्रम का प्रसारण भी होगा।

पहले दिन 18 जून को जनप्रतिनिधि कार्यक्रम में होंगे शामिल 

आपको बता दें कि18 जून को पूरे प्रदेश की शासकीय शालाओं में आयोजित किए जा रहे ”प्रवेशोत्सव” के दौरान सांसद, विधायक एवं अन्य जन प्रतिनिधि भी किसी एक शाला में सहभागिता करेंगे। शाला स्तर पर आयोजित स्कूल चलें हम अभियान कार्यक्रम में शाला के पूर्व विद्यार्थियों एवं जनप्रतिनिधियों को भी आमंत्रित किया गया है। इस दौरान ग्राम/बसाहट के शाला से बाहर रहे चिन्हित बच्चों का शाला में नामांकन एवं उनके अभिभावकों का शाला स्तर पर स्वागत किया जाएगा। प्रवेशोत्सव के दिन शालाओं में विशेष भोजन का वितरण किया जाएगा।

19 जून को स्कूल शिक्षा मंत्री का अभिभावकों को संबोधित पत्र और नि:शुल्क पाठ्य पुस्तकों का वितरण

स्कूल चलें हम अभियान के दूसरे दिन 19 जून को समस्त विद्यालयों में शिक्षक अभिभावक बैठक का आयोजन किया जाएगा। इसी दौरान स्कूल शिक्षा मंत्री उदय प्रताप सिंह द्वारा अभिभावकों को संबोधित पत्र का वितरण किया जाएगा। इन बैठकों में अभिभावकों के साथ शालेय गतिविधियों पर चर्चा, जिसमें प्रमुखतः कक्षावार विषयखंड, शैक्षणिक कैलेण्डर, अध्ययन-अध्यापन प्रक्रिया, अभिभावक-शिक्षक बैठक, सह शैक्षणिक गतिविधियों, शाला में उपलब्ध सुविधाओं आदि की जानकारी प्रदान की जायेगी। निःशुल्क पाठ्य पुस्तकों का वितरण किया जाएगा।

20 जून को होगा भविष्य से भेंट कार्यक्रम का आयोजन

स्कूल चलें हम अभियान को जनआंदोलन में परिणित करने की दृष्टि से प्रदेश की समस्त शासकीय शालाओं में जनसमुदाय की सहभागिता में “भविष्य से भेंट कार्यक्रम” का आयोजन किया जायेगा। इस दौरान विद्यार्थियों के मार्गदर्शन के लिए समाज के विभिन्न क्षेत्रों के प्रसिद्ध प्रभावशाली, प्रबुद्ध एवं सम्मानित व्यक्ति, स्थानीय विशिष्ट व्यक्ति आदि प्रेरक की भूमिका में विद्यार्थियों से भेंटकर विद्यार्थियों से अपने अनुभवों को साझा करते हुए उन्हें बेहतर भविष्य गढ़ने के लिये प्रेरित करेंगे।

educationportal.mp.gov.in/mpsch/ पर पंजीयन कर आप भी कर सकते हैं सहभागिता 

इसके अतिरिक्त समाज के अन्य इच्छुक व्यक्ति जैसे जन प्रतिनिधि, संचार मित्र, सामाजिक संगठनों से जुडे व्यक्ति, सामाजिक कार्यकर्ता, उन्नत किसान, अभिनेता, कलाकार, खिलाड़ी, उद्योगपति, व्यवसायी अथवा अधिकारी भी अपनी पंसद के किसी एक स्कूल में जाकर विद्यार्थियों का मार्गदर्शन और सहयोग कर सकेंगे। उन्हें इस कार्यक्रम में सहभागिता के लिए  educationportal.mp.gov.in/mpsch/ लिंक पर अपना पंजीयन कर अपनी सुविधा से किसी एक शाला का चयन करना होगा। कार्यक्रम के दौरान शालाओं में आमंत्रित व्यक्ति विद्यार्थियों को शाला उपयोग की वस्तुएं भेंट भी कर सकेंगे।

About Author
Atul Saxena

Atul Saxena

पत्रकारिता मेरे लिए एक मिशन है, हालाँकि आज की पत्रकारिता ना ब्रह्माण्ड के पहले पत्रकार देवर्षि नारद वाली है और ना ही गणेश शंकर विद्यार्थी वाली, फिर भी मेरा ऐसा मानना है कि यदि खबर को सिर्फ खबर ही रहने दिया जाये तो ये ही सही अर्थों में पत्रकारिता है और मैं इसी मिशन पर पिछले तीन दशकों से ज्यादा समय से लगा हुआ हूँ.... पत्रकारिता के इस भौतिकवादी युग में मेरे जीवन में कई उतार चढ़ाव आये, बहुत सी चुनौतियों का सामना करना पड़ा लेकिन इसके बाद भी ना मैं डरा और ना ही अपने रास्ते से हटा ....पत्रकारिता मेरे जीवन का वो हिस्सा है जिसमें सच्ची और सही ख़बरें मेरी पहचान हैं ....

Other Latest News