Gwalior News : जय विलास पैलेस में मन रही दीपावली, सियासत के युवराज का हैप्पी बर्थडे

ज्योतिरादित्य सिंधिया ने जब कांग्रेस छोड़ बीजेपी का दामन थामा था तब महाआर्यमन ने ट्वीट कर उनके इस फैसले को सही बताया था और लिखा था "इतिहास गवाह है कि मेरा परिवार कभी भी सत्ता का भूखा नहीं रहा।

ग्वालियर, अतुल सक्सेना। केंद्रीय मंत्री ज्योतिरादित्य सिंधिया के पुत्र महाआर्यमन सिंधिया बुधवार को 26 वर्ष के हो गये। उनके जन्मदिन पर ग्वालियर स्थित जय विलास पैलेस में जमकर आतिशबाजी हुई और समर्थकों की भारी भीड़ ने अपने युवराज को जन्मदिन की ढेरों शुभकामनाएं दी।

केंद्रीय नागरिक उड्डयन मंत्री ज्योतिरादित्य सिंधिया के पुत्र महाआर्यमन सिंधिया का बुधवार को 27 वां जन्मदिन है। महाआर्यमन का जन्मदिन पहली बार इतनी धूमधाम और भारी भीड़ के बीच मन रहा है। इस अवसर पर जय विलास पैलेस मे जूनियर सिंधिया के हजारों प्रशंसकों ने उन्हें बधाइयां दी और फूल मालाओ से उनका स्वागत किया।

MP News: अधिकारियों पर बड़ा एक्शन, रोकी गई 9 की एक वेतन वृद्धि, कारण बताओ नोटिस जारी

समर्थकों के बीच युवराज के नाम से जाने जाने वाले महाआर्यमन पिछले कुछ दिनों से राजनीति में भी सक्रिय हैं। हालाकि 13 साल की उम्र से वे अपने पिता की चुनावी सभाओं में जाते रहे हैं। लेकिन उनकी सक्रियता पिछले लोकसभा चुनावों में दिखाई दी थी। अपने दादा की तरह सहज,सरल व सौम्य व्यक्तित्व वाले महाआर्यमन ने दून स्कूल से प्रारंभिक पढ़ाई की। उन्होंने अमेरिका की येल यूनिवर्सिटी से ग्रेजुएशन किया। उन्हें म्यूजिक में भी काफी रुचि है और ट्विटर पर अक्सर म्यूजिक से जुड़े वीडियो साझा करते रहते है।

BJP ने घोषित की पिछड़ा वर्ग मोर्चा जिला अध्यक्षों की तीसरी सूची, इन्हें मिली जिम्मेदारी

ज्योतिरादित्य सिंधिया ने जब कांग्रेस छोड़ बीजेपी का दामन थामा था तब महाआर्यमन ने ट्वीट कर उनके इस फैसले को सही बताया था और लिखा था “इतिहास गवाह है कि मेरा परिवार कभी भी सत्ता का भूखा नहीं रहा। जैसा कि हमने वादा किया था कि हम भारत और मध्य प्रदेश में प्रभावी बदलाव लाएंगे।” उनके ट्वीट को राजनीतिक गलियारों में काफी सराहा गया था और यह पहला मौका था जब सिंधिया परिवार के किसी भी व्यक्ति ने इतने प्रभावी अंदाज के साथ इस मुद्दे पर प्रतिक्रिया दी थी।