Gwalior News : नशे के सौदागर पर शिकंजा, करीब 4 लाख की स्मैक के साथ तस्कर गिरफ्तार

Gwalior News : ग्वालियर पुलिस ने अवैध मादक पदार्थ के खिलाफ कार्रवाई करते हुए बड़ी सफलता हासिल की है, क्राइम  ब्रांच थाना पुलिस और विश्वविद्यालय थाना पुलिस ने संयुक्त रूप से कार्यवाही करते हुए एक तस्कर को गिरफ्तार कर उसके कब्जे से करीब चार लाख रुपये की स्मैक जब्त की है।

ग्वालियर पुलिस अधीक्षक राजेश सिंह चंदेल ने जिले के थाना प्रभारियों को निर्देश दिए हैं कि अवैध मादक पदार्थ की खरीद फरोख्त पर जीरो टोलरेंस नीति अपनाई जा रही है इसमें कोई ढिलाई स्वीकार नहीं होगी। इसी क्रम में आज क्राइम ब्रांच को मुखबिर से सूचना प्राप्त हुई कि थाना विश्वविद्यालय क्षेत्र में पंत नगर पुलिस चौकी के पीछे, रेलवे पुलिया के पास एक तस्कर नशीला पदार्थ लिए हुए किसी ग्राहक के इंतजार में खड़ा हुआ हैं।

सूचना मिलते ही एडिशनल एसपी क्राइम राजेश दंडोतिया एक्टिव हुए उन्होंने क्राइम ब्रांच थाने और विश्वविद्यालय थाने  की संयुक्त टीम बनाकर मुखबिर सूचना की तस्दीक कर नशा तस्कर को पकड़ने के निर्देश दिए। निर्देश के बाद पुलिस की संयुक्त टीम  मुखबिर के बताये स्थान पंत नगर पुलिस चौकी के पीछे, रेलवे पुलिया के पास पहुंची।

पुलिस टीम को रेलवे पुलिया के पास एक संदिग्ध व्यक्ति खड़ा दिखा, पुलिस टीम को अपनी ओर आता देख उसने भागने का प्रयास किया, लेकिन पुलिस टीम द्वारा उक्त संदिग्ध को घेराबंदी कर पकड़ लिया। पकड़े गये संदिग्ध का नाम पता पूछने पर उसने स्वयं को पान की टंकी के पास गणेशपुरा मुरैना का रहने वाला बताया।

पकड़े गये संदिग्ध की तलाशी लेने पर उसके पास से पेंट के जेब से सफेद रंग की पन्नी मिली, जिसमें स्मैक रखा हुआ पाया गया। पुलिस द्वारा साक्षियों के समक्ष तौल करने पर 38 ग्राम स्मैक निकली,  ज्सिकी कीमत लगभग 03 लाख 80 हजार रुपये की पाई गई, पुलिस ने इसे जब्त कर लिया।

पकड़े गये स्मैक तस्कर से जप्त स्मैक के संबंध में पूछताछ करने पर उसने बताया कि एजी ऑफिस पुल के नीचे एक अज्ञात व्यक्ति से उसके द्वारा स्मैक खरीदी गई है, पकड़े गये तस्कर के बताये अनुसार उक्त अज्ञात व्यक्ति की तलाश की गई जो नहीं मिला। पुलिस ने पकड़े गये तस्कर के विरूद्ध थाना विश्वविद्यालय में एनडीपीएस एक्ट का प्रकरण पंजीबद्व कर विवेचना में लिया गया है। पुलिस टीम द्वारा पकड़े गये तस्कर से स्मैक के संबंध में पूछताछ की जा रही है।

ग्वालियर से अतुल सक्सेना की रिपोर्ट 


About Author
Atul Saxena

Atul Saxena

पत्रकारिता मेरे लिए एक मिशन है, हालाँकि आज की पत्रकारिता ना ब्रह्माण्ड के पहले पत्रकार देवर्षि नारद वाली है और ना ही गणेश शंकर विद्यार्थी वाली, फिर भी मेरा ऐसा मानना है कि यदि खबर को सिर्फ खबर ही रहने दिया जाये तो ये ही सही अर्थों में पत्रकारिता है और मैं इसी मिशन पर पिछले तीन दशकों से ज्यादा समय से लगा हुआ हूँ.... पत्रकारिता के इस भौतिकवादी युग में मेरे जीवन में कई उतार चढ़ाव आये, बहुत सी चुनौतियों का सामना करना पड़ा लेकिन इसके बाद भी ना मैं डरा और ना ही अपने रास्ते से हटा ....पत्रकारिता मेरे जीवन का वो हिस्सा है जिसमें सच्ची और सही ख़बरें मेरी पहचान हैं ....

Other Latest News