हनी ट्रैप: ब्लैकमेलिंग करने वाले गिरोह के तीन सदस्य पुलिस ने गिरफ्तार किये

Gwalior News : ग्वालियर पुलिस की क्राइम ब्रांच  थाने और कंपू थाना पुलिस ने संयुक्त रूप से कार्रवाई करते हुए एक ऐसे गिरोह का पर्दाफाश किया है जो महिलाओं की मदद से लोगों को फंसाकर उन्हें हनी ट्रैप का शिकार बनाते थे और ब्लैकमेल करते थे, पुलिस ने इस गिरोह के तीन सदस्यों को गिरफ्तार किया है शेष की तलाश जारी है।

आरोपियों को पकड़ने मुखबिर तंत्र मजबूत किया 

ग्वालियर पुलिस एक शिकायती आवेदन के आधार पर हनी ट्रैप में फांसकर लोगों की ब्लैकमेल करने वाले गिरोह की तलाश कर रही थी, एसपी ने क्राइम ब्रांच को ये काम सौंपा था। पुलिस जब गैंग को तलाश रही थी इसी दौरान मुखबिर से पुलिस को सूचना मिली कि इस गैंग के आरोपी जेएएच अस्पताल के पीछे लक्ष्मण तलैया नाले के पास नया बाजार क्षेत्र में दिखाई दिए हैं।

तीन आरोपी गिरफ्तार इसमें एक महिला शामिल  

सीएसपी शियाज के एम (आईपीएस) ने बताया कि मुखबिर की सूचना के बाद सीएसपी इन्दरगंज विजय भदौरिया एवं डीएसपी क्राइम संदीप मालवीय के मार्गदर्शन में म्राइम ब्रांच थाने और कंपू थाने की एक संयुक्त टीम बनाई गई और फिर उसे मुखबिर के बताये स्थान पर भेजा जहाँ टीम ने तीन लोगों को पकड़ा जो हनी ट्रैप गिरोह के निकले। पुलिस ने इन्हें गिरफ्तार कर जब पूछताछ की तो इन लोगों ने अपराध स्वीकार कर लिया। पकड़े गए आरोपियों में दो पुरुष और एक महिला शामिल है ।पुलिस ने इनके पास से करीब 35 हजार रुपये भी बरामद किये हैं।

महिला ने घर बुलाकर बनवाया अश्लील वीडियो

गौरतलब है कि निवासी डीडी नगर ग्वालियर घनश्याम मिश्रा ने पुलिस को एक शिकायती आवेदन दिया था जिसमें उन्होंने  उन्हें ब्लैकमेल कर पैसे वसूलने के संबंध में शिकायत की थी। फरियादी ने बताया था कि वह एक व्यक्ति द्वारा बिछाये जाल में फँसाया गया है, उसे एक लड़की ने किसी अस्पताल में नौकरी करने का बता कर व्हाट्सएप पर चेटिंग शुरू की और 31 मई को मुझे मिलने के लिये दाल बाजार तिराहे पर बुलाया और कहा आप मेरे घर चलिये जहाँ एक कमरे में वह मुझे ले गयी और जबरदस्ती कपड़े उतारने लगी वहाँ पर मौजूद एक दूसरी औरत जो वहाँ पहले से मौजूद थी उसने भी मेरे साथ गंदी हरकत की तभी लगभग 5 मिनट में दो व्यक्ति उक्त कमरे में आये और मेरा विडियो बनाया और फिर पैसों की माँग करने लगे न देने पर बलात्कार का केस लगाने की व वीडियो घर पहुंचाने की धमकी देने लगे।

एक लाख रुपये हड़प लिए फिर और पैसों की करने लगे डिमांड 

फरियादी ने कहा कि आरोपियों  ने उससे वीडियो वायरल नहीं करने के बदले एक लाख रुपये  मांगे जो उसने एक दोस्त से उधार लेकर दे दिए, मैंने सोचा चलो बच गया लेकिन आरोपी अभी 6 जून को दीनदयाल नगर में पहुंच गए और मुझसे कहा कि आप मुझे और पैसे दो नहीं तो ठीक नहीं होगा, जिसके बाद उसे समझ आ गया कि ये गिरोह ब्लैकमेल कर रहा है फिर उन्होंने इसकी शिकायत पुलिस में की, जिसके बाद पुलिस ने इस हनी ट्रैप गिरोह के तीन आरोपियों को गिरफ्तार कर उनके खिलाफ कंपू थाने में पकरण दर्ज कर लिया।

ग्वालियर से अतुल सक्सेना की रिपोर्ट 


About Author
Atul Saxena

Atul Saxena

पत्रकारिता मेरे लिए एक मिशन है, हालाँकि आज की पत्रकारिता ना ब्रह्माण्ड के पहले पत्रकार देवर्षि नारद वाली है और ना ही गणेश शंकर विद्यार्थी वाली, फिर भी मेरा ऐसा मानना है कि यदि खबर को सिर्फ खबर ही रहने दिया जाये तो ये ही सही अर्थों में पत्रकारिता है और मैं इसी मिशन पर पिछले तीन दशकों से ज्यादा समय से लगा हुआ हूँ.... पत्रकारिता के इस भौतिकवादी युग में मेरे जीवन में कई उतार चढ़ाव आये, बहुत सी चुनौतियों का सामना करना पड़ा लेकिन इसके बाद भी ना मैं डरा और ना ही अपने रास्ते से हटा ....पत्रकारिता मेरे जीवन का वो हिस्सा है जिसमें सच्ची और सही ख़बरें मेरी पहचान हैं ....

Other Latest News