ग्वालियर: कश्मीरी परिवार बोले हमारे लिए आज आजादी का दिन, आपस में मिलकर बांटीं खुशियां

kashmiri-families-happy-with-removal-of-370

ग्वालियर। केंद्र सरकार द्वारा जम्मू कश्मीर से धारा 370 और 35A हटाने पर ग्वालियर में रह रहे कश्मीरी पंडित परिवारों ने खुशियां जताई हैं। इन परिवारों का कहना है कि सही मायनों में हमें आज आजादी मिली है।

ग्वालियर में करीब 60 कश्मीरी पंडित परिवार रहते हैं जो लम्बे समय से अपनी धरती पर वापसी की बाट जोह रहे थे। आज जैसे ही राज्यसभा में गृह मंत्री अमित शाह ने धारा 370 और 35A को हटाये जाने का संकल्प पेश किया और उसके बाद राष्ट्रपति ने उस पर हस्ताक्षर कर दिए इन परिवारों की ख़ुशी का ठिकाना नहीं रहा। शहर के कम्पू में कौल नर्सिंग होम के संचालक डॉ नीरज कौल ने एमपी ब्रेकिंग न्यूज़ से बात करते हुए कहा कि सहीं मायने में हमें आजादी आज मिली है हमारे लिए आज ही होली दीवाली और कश्मीरी पंडितों क्क सबसे बड़ा त्यौहार शिवरात्रि है। उन्होंने कहा कि ग्वालियर में 60 कश्मीरी पंडित परिवार रहते हैं जिनमें से 45 तो ऐसे है जिन्हें 1990 में मज़बूरी में कश्मीर छोड़कर आना पड़ा। वे कहते है कि मेरी पत्नी और मेरे मामा को जबरन अपनी धरती छोड़नी पड़ी जिसका कष्ट आजतक उनके चेहरे पर देखा जा सकता है। डॉ कौल ने कहा कि हम लम्बे समय से 370 और 35A को हटाने की बातें सुनते आ रहे थे लेकिन कोई इसे हटा नहीं पाया। उन्होंने प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी और गृह मंत्री अमित शाकी तारीफ करते हुए उन्हें धन्यवाद दिया। यहाँ रह रहे कश्मीरी पंडित परिवार के सदस्यों का कहना है कि धारा370 और 35A हटने के बाद अब हम अपने वतन वापस जा सकेंगे अपने देवी देवताओं की पूजा कर सकेंगे और अपने लोगों से मिल सकेंगे। ये बहुत ख़ुशी की बात है।