-Protests-against-Kanhaiya-Kumar-and-Jignesh's-program-in-Gwalior-fire-blast-effigy

ग्वालियर। जेएनयू छात्रसंघ के पूर्व अध्यक्ष और विवादित नेता कन्हैया कुमार और गुजरात के विधायक जिग्नेश मेवानी के चेंबर ऑफ कॉमर्स में सोमवार को होने जा रहे कार्यक्रम का विरोध शुरू हो गया है। हिन्दू सेना ने चेंबर परिसर के सामने पुतला फूंककर अपना कड़ा विरोध दर्ज कराया है। साथ ही चेतावनी दी है अगर कार्यक्रम हुआ तो इसकी जिम्मेदारी जिला एवं पुलिस प्रशासन की होगी।

गौरतलब है कि दलित शक्तिवेश संस्था के बुलावे पर सोमवार को चेंबर ऑफ कॉमर्स सभागार में संविधान बचाओ यात्रा कार्यक्रम का शुभारंभ किया जाएगा। इस कार्यक्रम में विशेष रूप से जेएनयू छात्रसंघ के पूर्व अध्यक्ष कन्हैया कुमार, गुजरात के वड़गाँव विधायक जिग्नेश मेवानी और जेएनयू के छात्र नेता अंशुमन मौजूद रहेंगे। विवादित नेताओं के ग्वालियर आने की भनक लगते ही हिन्दू सेना ने इनका विरोध जताया और चेंबर ऑफ कॉमर्स के सामने नेताओं का पुतला फूंका। हिन्दू सेना के नेताओ ने चेम्बर ऑफ कॉमर्स के मानसेवी सचिव प्रवीण अग्रवाल को ज्ञापन सौंपा और कार्यक्रम निरस्त करने की चेतावनी दी है। चेंबर ऑफ कॉमर्स के मानसेवी सचिव प्रवीण अग्रवाल ने प्रदर्शनकारियों को भरोसा दिलाया है कि बिना प्रशासन की अनुमति के कोई कार्यक्रम आयोजित नहीं किया जाएगा। इधर कार्यक्रम आयोजकों से मिली जानकारी के अनुसार प्रशासन ने कार्यक्रम की अनुमति दे दी है और इसकी जानकारी अनुमति पत्र के साथ चेंबर ऑफ कॉमर्स को उपलब्ध करा दी गई है।  विवादित नेताओं के आने की सूचना के बाद से ही प्रशासन अलर्ट है और किसी भी तरह की अप्रिय स्थिति से निपटने के लिए तैयार है।