स्कूल चलें हम अभियान 2024: स्कूल पहुंचे बच्चों का तिलक लगाकर, पुष्पाहारों से स्वागत, कॉपी, पेन व पुस्तकों के सेट दिए

प्रवेशोत्सव के दौरान प्रदेश के स्कूल शिक्षा मंत्री का संदेश पत्र भी बच्चों व उनके अभिभावकों को प्रदान किए गए। साथ ही संदेश का वाचन भी किया गया।

Atul Saxena
Published on -
School Chalen Hum Abhiyan
स्कूल चलें हम अभियान 2024: ग्वालियर जिले के गाँव-गाँव व कस्बे-कस्बे के सरकारी स्कूलों में बुधवार को प्रवेशोत्सव मनाया गया। स्कूलों में नव प्रवेशी बच्चों सहित सभी विद्यार्थियों का प्यार-दुलार, रोली-चंदन के तिलक लगाकर एवं पुष्पाहारों से स्वागत किया गया। साथ ही उन्हें पेन, पेंसिल, कॉपी व पुस्तकें भी भेंट की गईं। कल 18 जून को जिले में स्थानीय अवकाश होने की वजह से 19 जून को जिलेभर में प्रवेशोत्सव मनाए गए। प्रवेशोत्सव में बच्चों के साथ-साथ उनके अभिभावकों ने भी भाग लिया। प्रवेशोत्सव के दौरान प्रदेश के स्कूल शिक्षा मंत्री का संदेश पत्र भी बच्चों व उनके अभिभावकों को प्रदान किए गए। साथ ही संदेश का वाचन भी किया गया।

आज जिले में आयोजित किया गया प्रवेशोत्सव कार्यक्रम  

जिले के विकासखंड घाटीगाँव के ग्राम पनिहार की शासकीय पाठशाला में जनपद पंचायत के मुख्य कार्यपालन अधिकारी श्रीमती ऊषा शर्मा की मौजूदगी में प्रवेशोत्सव का आयोजन हुआ। उन्होंने स्कूल की बालिकाओं का पुष्पाहारों से स्वागत किया। साथ ही उन्हें पुस्तकों का सेट भेंट किया। इसी तरह शासकीय मॉडल हायर सेकेण्ड्री स्कूल घाटीगाँव के प्रवेशोत्सव में एसडीएम  राजीव समाधिया शामिल हुए। उन्होंने इस अवसर पर नव प्रवेशी बच्चों का स्वागत सत्कार कर उन्हें राज्य शासन द्वारा उपलब्ध कराई गईं पुस्तकें भेंट की।

बच्चों का स्वागत किया कॉपी किताबें दी 

जिला परियोजना समन्वयक रविन्द्र सिंह तोमर पड़ाव पर श्रीकृष्ण धर्मशाला में संचालित शासकीय माध्यमिक विद्यालय, सेवानगर स्थित शासकीय माध्यमिक विद्यालय उर्दू कानून गोयान एवं मुरार स्थित शासकीय उमावि क्र.-2 के प्रवेशोत्सवों में बच्चों का स्वागत करने पहुँचे। विकासखंड मुरार के शासकीय माध्यमिक विद्यालय बेहट व हाईस्कूल बरोठा सहित अन्य विद्यालयों में बुधवार को प्रवेशोत्सव आयोजित हुए। इसी तरह डबरा व भितरवार विकासखंड के अंतर्गत विभिन्न ग्रामों व कस्बों के सभी सरकारी स्कूलों में प्रवेशोत्सव मनाए गए।
स्कूल चलें हम अभियान 2024: स्कूल पहुंचे बच्चों का तिलक लगाकर, पुष्पाहारों से स्वागत, कॉपी, पेन व पुस्तकों के सेट दिए
स्कूल चलें हम अभियान 2024: स्कूल पहुंचे बच्चों का तिलक लगाकर, पुष्पाहारों से स्वागत, कॉपी, पेन व पुस्तकों के सेट दिए

About Author
Atul Saxena

Atul Saxena

पत्रकारिता मेरे लिए एक मिशन है, हालाँकि आज की पत्रकारिता ना ब्रह्माण्ड के पहले पत्रकार देवर्षि नारद वाली है और ना ही गणेश शंकर विद्यार्थी वाली, फिर भी मेरा ऐसा मानना है कि यदि खबर को सिर्फ खबर ही रहने दिया जाये तो ये ही सही अर्थों में पत्रकारिता है और मैं इसी मिशन पर पिछले तीन दशकों से ज्यादा समय से लगा हुआ हूँ.... पत्रकारिता के इस भौतिकवादी युग में मेरे जीवन में कई उतार चढ़ाव आये, बहुत सी चुनौतियों का सामना करना पड़ा लेकिन इसके बाद भी ना मैं डरा और ना ही अपने रास्ते से हटा ....पत्रकारिता मेरे जीवन का वो हिस्सा है जिसमें सच्ची और सही ख़बरें मेरी पहचान हैं ....

Other Latest News