ग्वालियर, अतुल सक्सेना

आज शनिवार को ग्वालियर के फूलबाग मैदान में आयोजित भाजपा सदस्यता समारोह में राज्यसभा सांसद ज्योतिरादित्य सिंधिया (Rajya Sabha MP Jyotiraditya Scindia) ने पूर्व मुख्यमंत्री कमलनाथ (Former Chief Minister Kamal Nath) पर तगड़ा हमला बोला ।सिंधिया ने कहा कि प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी (Prime Minister Narendra Modi) ने तो कोरोना के चलते लाकडाउन घोषित किया था। लेकिन मुख्यमंत्री रहते हुए कमलनाथ ने 15 महीने पहले ही मध्य प्रदेश में वल्लभ भवन में आम जनता के लिए लॉकडाउन (Lockdown) घोषित कर दिया था यानी वहां पर केवल व्यापारी और उद्योगपतियों का ही प्रवेश का जो पैसा देकर आते थे और उनके अलावा आम जनता का प्रवेश निषेध कर दिया गया था।

सिंधिया यही नही रुके और उन्होंने आगे कहा कि उस समय सरकार आगे से कमलनाथ और पीछे से दिग्विजय सिंह चला रहे थे ।अंचल के विधायक चाहे वह कांग्रेस के हो या बीजेपी के जब मुख्यमंत्री से मिलने जाते थे तो मुख्यमंत्री घड़ी की तरफ इशारा करके उन्हें जल्दी जाने की कहते थे ।सिंधिया ने कहा कि जिस वल्लभ भवन का शिलान्यास मुख्यमंत्री रहते हुए शिवराज सिंह ने किया उसमें फीता काटने का काम कमलनाथ ने किया। लेकिन ईश्वर का न्याय देखिए कि आज शिलान्यास करने वाला ही वहां पर विराजमान है।

सिंधिया ने शिवराज सिंह चौहान को धन्यवाद देते हुए कहा कि उन्होंने एक-एक विधायक से बात कर प्रदेश में और अंचल में करोड़ों के विकास कार्य कराए हैं ।साथ ही साथ केंद्रीय मंत्री नरेंद्र सिंह तोमर ने भी चंबल एक्सप्रेस वे जैसे बड़ी कार्य की शुरुआत मध्यप्रदेश में कराने की पहल की है। सिंधिया ने यह भी कहा कि वे उस परिवार से आते हैं जहां पर पद कोई महत्व नहीं रखता बल्कि अगर जनता के साथ अन्याय होता है तो परिवार सड़क पर उतर आता है ।झंडा और डंडा लेकर इसलिए वे भी अब सड़क पर उतर आए और आम जनता के हित में उन्होंने बीजेपी का साथ देना मंजूर किया।