मिलावट और कम तौल की शिकायत रोकने राशन दुकानों पर पैकिंग में मिलेगा गेहूं-चावल, शक्कर

ग्वालियर। राशन की दुकानों से बंटने वाले गेहूं ,चावल और शक्कर में मिलावट और कम तौल की शिकायतों को दूर करने के लिए सरकार एक नया प्रयोग करने जा रहा है। सरकार अब राशन दुकानों से पैकिंग में इसे बेचने जा रही है। इसकी शुरुआत पायलट प्रोजेक्ट के रूप में प्रदेश के खाद्य एवं नागरिक आपूर्ति मंत्री के गृह जिले से 140 दुकानों से की जा रही है। 

आमतौर पर राशन की दुकानों से मिलने वाली खाद्य सामग्री को लेकर उपभोक्ताओं को शिकायत रहती है कि उसमें मिलावट है, इसका वजन कम निकला है क्वालिटी में गड़बड़ है। ऐसी ही शिकायतों को दूर करने के लिए नागरिक आपूर्ति निगम और खाद्य विभाग एक प्रयोग करने जा रहा है। इसके पायलट प्रोजेक्ट के रूप में ग्वालियर जिले की 140 दुकानों को चुना गया है जहाँ पैकिंग में गेहूं,चावल और शक्कर उपभोक्ता को दी जाएगी। नागरिक आपूर्ति निगम के क्षेत्रीय प्रबंधक अश्विनी रावत के मुताबिक ग्वालियर जिले में चार सेंटर लश्कर,मुरार,डबरा और ग्वालियर से खाद्यान्न की सप्लाई होती है इनमें से ग्वालियर सेंटर से जुडी 140 राशन दुकानों पर पैकिंग में खाद्य सामग्री मिलेगी। अधिकारियों का कहना है कि यदि ये प्रयोग सफल होता है तो इसे दूसरे सेंटर पर भी लागू किया जायेगा। जिसके बाद मिलावटखोरी, कम तौल जैसी शिकायते दूर हो जाएँगी।