मंत्री के पैरों में गिरकर महिला ने लगाई गुहार, पुलिस नहीं कर रही सुनवाई

 ग्वालियर। पिछले कुछ दिनों से अपने विधानसभा क्षेत्र में सफाई व्यवस्था को खुद अपने हाथ में लेकर और अधिकारियों के सामने हाथ जोड़कर निवेदन करने वाले मंत्री प्रद्युम्न सिंह के पैरों में आज महिला ने गिरकर गुहार लगाई।  महिला की शिकायत थी कि उसकी नाबालिग बेटी कल से गायब है और पुलिस सुनवाई नहीं कर रही।

दरअसल अपने विधानसभा क्षेत्र के लोगों की हर छोटी बड़ी समस्या में मौके पर खड़े रहने वाले स्थानीय विधायक और प्रदेश के खाद्य एवं नागरिक आपूर्ति मंत्री प्रद्युम्न सिंह तोमर आज सुबह क्षेत्र  में आयोजित श्रीमद भगवद सप्ताह की कलश यात्रा में शामिल होने पहुंचे। वो जैसे ही किला गेट के सामने पहुंचे तभी वहां ग्वालियर थाने के सामने अचानक एक महिला बीच रास्ते में आ गई और मंत्री तोमर के पैरों में गिर गई। मंत्री ने जब इसका कारण पूछा तो महिला ने बताया कि उसकी नाबालिग बच्ची कल से गायब है और वो थाने के तीन चक्कर लगा चुकी है लेकिन पुलिस सुनवाई नहीं कर रही।

अफसरों ने नहीं उठाया मंत्री के पीए का फोन 

महिला की शिकायत सुन मंत्री ने तत्काल अपने पीए से थाना प्रभारी को फोन लगाया लेकिन फोन नहीं उठा फिर उन्होंने एडिशनल एसपी को फोन लगाया वहां भी फोन नहीं उठा। इससे नाराज मंत्री ने स्टाफ को थाने भेजा और वहां  से स्टाफ बुलवाया। थाने पर मौजूद एस आई मावई को जब मंत्री ने महिला की शिकायत नहीं सुने जाने पर नाराजगी जताई तो एस आई मावई चुप्पी साध गए और कार्रवाई का भरोसा दिलाकर महिला को अपने साथ थाने ले गए । मंत्री ने थाना स्टाफ को  बच्ची को जल्द तलाशने की  हिदायत दी है। बहरहाल मंत्री के दखल के बाद एक परेशान मां की शिकायत तो सुन ली गई है अब देखना ये है कि कार्रवाई कितनी जल्दी होती है।