इस एप पर कर सकते हैं MP Election 2023 के दौरान आदर्श आचार संहिता के उल्लंघन की शिकायत, 100 मिनट के अंदर होगा निराकरण

MP Panchayat By-Election

MP Election 2023 : मप्र विधानसभा निर्वाचन के लिए लागू आदर्श आचरण संहिता का उल्लंघन दंडनीय अपराध है, इसका पालन चुनाव से जुड़े प्रत्येक व्यक्ति को करना होता है, निर्वाचन आयोग ने आम नारिकों से कहा है कि वे आदर्श आचरण संहिता उल्लंघन की शिकायत कर सकते हैं, इसके लिए भारत निर्वाचन आयोग ने cVigil एप बनाया है इस पर शिकायत दर्ज होने के बाद 100 मिनट के अंदर इसका निराकरण कर दिया जायेगा।

सतर्क नागरिक cVigil एप के जरिए कर सकते हैं आदर्श आचार संहिता के उल्लंघन की शिकायत

निर्वाचन आयोग के मुताबिक विधानसभा निर्वाचन-2023 के दौरान आदर्श आचरण संहिता के उल्लंघन संबंधी सूचना व शिकायतें कोई भी आम नागरिक आसानी से दर्ज करा सकता है। भारत निर्वाचन आयोग द्वारा शुरू किए गए सी-विजिल (cVigil) एप पर आचार संहिता के उल्लंघन से संबंधित फोटो अथवा वीडियो डालकर ऑनलाइन शिकायत दर्ज कराई जा सकती है। इस एप को गूगल प्ले स्टोर से आसानी से डाउनलोड किया जा सकता है।

cVigil एप भौगोलिक सूचना प्रणाली द्वारा स्वचालित है

ग्वालियर कलेक्टर एवं जिला निर्वाचन अधिकारी अक्षय कुमार सिंह ने बताया कि भारत निर्वाचन आयोग द्वारा सी-विजिल (cVigil) ऑनलाइन एप शुरू किया गया है। जिस पर कोई भी व्यक्ति पिक्चर (फोटो) अथवा वीडियो अपलोड कर शिकायत दर्ज कर सकता है। उन्होंने बताया कि यह एप भौगोलिक सूचना प्रणाली (Geographic Information System) द्वारा स्वचालित है। कोई भी नागरिक आचार संहिता के उल्लंघन संबंधी फोटोग्राफ या वीडियो अपने मोबाइल फोन से इस एप पर भेज सकता है। ऐसा करते ही संबंधित रिटर्निंग अधिकारी व उस क्षेत्र की एफएसटी टीम को पता लग जाता है और शिकायत के निराकरण की कार्रवाई तत्परता से की जाती है।

केवल आदर्श आचार संहिता के उल्लंघन के बारे में शिकायतें प्राप्त करेगा cVigil एप

जिला निर्वाचन अधिकारी ने बताया कि यह एप केवल आदर्श आचार संहिता के उल्लंघन के बारे में शिकायतें प्राप्त करेगा। गलत फोटोग्राफ या वीडियो अपलोड करने से रोकने के लिये व्यवस्था भी इस एप में है। इस एप द्वारा खींची गई फोटो व वीडियो फोन गैलरी में सेव नहीं होंगे। शिकायत के निराकरण की सूचना शिकायतकर्ता को भी दी जाती है।

ग्वालियर से अतुल सक्सेना की रिपोर्ट 


About Author
Atul Saxena

Atul Saxena

पत्रकारिता मेरे लिए एक मिशन है, हालाँकि आज की पत्रकारिता ना ब्रह्माण्ड के पहले पत्रकार देवर्षि नारद वाली है और ना ही गणेश शंकर विद्यार्थी वाली, फिर भी मेरा ऐसा मानना है कि यदि खबर को सिर्फ खबर ही रहने दिया जाये तो ये ही सही अर्थों में पत्रकारिता है और मैं इसी मिशन पर पिछले तीन दशकों से ज्यादा समय से लगा हुआ हूँ.... पत्रकारिता के इस भौतिकवादी युग में मेरे जीवन में कई उतार चढ़ाव आये, बहुत सी चुनौतियों का सामना करना पड़ा लेकिन इसके बाद भी ना मैं डरा और ना ही अपने रास्ते से हटा ....पत्रकारिता मेरे जीवन का वो हिस्सा है जिसमें सच्ची और सही ख़बरें मेरी पहचान हैं ....

Other Latest News