भाभी की सहेली के एक तरफा प्यार में दिवाना हुआ देवर, छाती पर गुदवाया लड़की का नाम

इंदौर। आकाश धौलपुरे। 

24 दिसंबर 1993 को देशभर में रिलीज हुई फ़िल्म “डर” में शाहरुख खान के किरदार को पसंद कर उसका अनुसरण करने वालो की कमी उस दौर में भी कमी नहीं थी और आज भी कुछ ऐसा ही है। दरअसल, इंदौर में एक ऐसा ही युवक पुलिस की गिरफ्त में आया है जिसे योजनबद्ध तरीके से वी केयर फॉर यू की टीम ने पकड़ा है। युवक का नाम अमन सोलंकी पिता दीपक सोलंकी निवासी 253 रूप नगर छोटा बांगड़दा रोड़ इंदौर है जो मैकेनिकल ब्रांच से डिप्लोमाधारी होकर महू स्थित इंडो टूलिंग प्रायवेट में काम करता है। अमन नामक युवक के साथ हुआ यूं कि उसे अपनी भाभी की सहेली इतनी पसंद आई कि वो दिन रात उससे शादी के सपने देखने लगा। इसके बाद उसने भाभी की सहेली का मोबाइल नम्बर भी भाभी के मोबाइल से चुरा लिया। फिर सिलसिला शुरू हुआ रेखा ( परिवर्तित नाम) का पीछा करने का। अमन धीरे धीरे अंजान बनकर रेखा को कॉल करने लगा और वो रेखा को उसकी हर वो जानकारी रखने लगा और वो कहा आती है और कहा जाती इस तक कि जानकारी वो रेखा को देने लगा जिसके चलते रेखा चौंकने लगी। हद तो तब हो गई जब अमन सोलंकी नामक युवक ने शादी का प्रपोजल भी खूनी अंदाज में मोबाइल पर भेज। अमन युवती पर शादी का दबाव बनाने के लिये  सीने पर ब्लेड कुरेद कर खून से युवती का नाम लिखा फ़ोटो भेज दिया ताकि वह डरकर शादी के लिए हामी भर दे। अमन तब तक भी रेखा के लिए अनजान ही था क्योंकि कभी भी उसने अपने चेहरे की तस्वीर उसे नही भेजी थी। ऐसे में बार – बार कॉल और मैसेज से परेशान रेखा ने वी केयर फॉर यू की शरण ली और इसके बाद वी केयर फॉर यू और क्राइम ब्रांच इंदौर की टीम ने एक जाल बिछाया जिसमे अमन फंस गया। इसके लिए बकायदा रेखा ने आरोपी युवक को मिलने के लिए बुलाया और पहले से ही तैयार पुलिस टीम ने मनचले आशिक को धरदबोचा। पुलिस ने सिरफिरे अमन को आगे की कार्रवाई के लिए एरोड्रम थाने के सुपुर्द कर दिया है। इस अजीब मामले के सामने आने के बाद कई सवालों जरूर खड़े है लेकिन जबाव अब आरोपी को मिल गया होगा क्योंकि ऐसी एकतरफा आशिकी का अंजाम ऐसा ही होता है।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here