Indore News: नगर निगम में घोटाला के आरोप में निलंबित इंजीनियर के रिश्तेदार के खिलाफ एफआईआर दर्ज

पुलिस की जांच में यह जानकारी सामने आई कि अभय राठौर द्वारा नगर पालिका में रहते हुए अवैध तरीके से नल कनेक्शन लेकर अक्टूबर 2014 से अब तक 115 माह में प्रतिदिन 70000 लीटर पानी अवैध तरीके से बेचा गया।

indore mgm

Indore News: इंदौर नगर निगम 125 करोड़ रुपए के सिवरेज घोटाले में निलंबित एग्जीक्यूटिव इंजीनियर के करीबी रिश्तेदार के खिलाफ शिकायतकर्ता के द्वारा एमजी थाने में एफआईआर दर्ज कराई है। आपको बता दें आरोपियों के द्वारा साल 2014 से अब तक लगभग 2.48 करोड़ रुपए के पानी चोरी किया गया है, जोकि 115 माह में 1840 लाख लीटर पानी की चोरी बताई जा रही है। वहीं, आरोपियों पर लगातार अपराधी प्रकरण दर्ज होते जा रहे हैं और पुलिस आरोपियों से अब अन्य साथियों के साथ इस मामले की तह तक जल्द पहुंचने की बात कह रही है।

करीबी रिस्तेदार के साथ मिलकर किया घोटाला

एडिशनल डीसीपी राजेश दंडोतिया के मुताबिक नगर निगम घोटाले में निलंबित एग्जीक्यूटिव इंजीनियर अभय राठौर निवासी गुलाब बाग कॉलोनी के खिलाफ सार्वजनिक संपत्ति को नुकसान निवारण अधिनियम के तहत एक और मामला दर्ज किया गया है, जिसमें उसके एक नजदीक के रिश्तेदार के साथ मिलकर उन्होंने घर में अवैध तरीके से नल कनेक्शन ले रखा था। इससे वह रोजाना लाखों-करोड़ों रुपए का पानी बेचा करते थे। इससे पहले अभय राठौर के घर 4 इंच का एक अवैध नल कनेक्शन भी मिला था। इस मामले में पुलिस ने पहले ही एक मामला दर्ज किया हुआ है।

पुलिस जांच में आई ये जानकारियां

पुलिस की जांच में यह जानकारी सामने आई कि अभय राठौर द्वारा नगर पालिका में रहते हुए अवैध तरीके से नल कनेक्शन लेकर अक्टूबर 2014 से अब तक 115 माह में प्रतिदिन 70000 लीटर पानी अवैध तरीके से बेचा गया। वहीं, एग्जीक्यूटिव इंजीनियर द्वारा अब तक 2.48 करोड रुपए कमाए गए हैं। आरोपी द्वारा तीन टैंकर के नंबर भी पुलिस को मिले हैं, जिनके द्वारा वह एक दिन छोड़कर टैंकरों से 1.06 लाख लीटर पानी शहर में बेचा करते थे। प्रति टैंकर 10,000 रूपए तक यह शुल्क लिया करते थे। यह राशि और भी बढ़ सकती है और मामले में अन्य खुलासा भी जल्द होने की पुलिस बात कह रही है।

इंदौर से शकील अंसारी की रिपोर्ट


About Author
Shashank Baranwal

Shashank Baranwal

पत्रकारिता उन चुनिंदा पेशों में से है जो समाज को सार्थक रूप देने में सक्षम है। पत्रकार जितना ज्यादा अपने काम के प्रति ईमानदार होगा पत्रकारिता उतनी ही ज्यादा प्रखर और प्रभावकारी होगी। पत्रकारिता एक ऐसा क्षेत्र है जिसके जरिये हम मज़लूमों, शोषितों या वो लोग जो हाशिये पर है उनकी आवाज आसानी से उठा सकते हैं। पत्रकार समाज मे उतनी ही अहम भूमिका निभाता है जितना एक साहित्यकार, समाज विचारक। ये तीनों ही पुराने पूर्वाग्रह को तोड़ते हैं और अवचेतन समाज में चेतना जागृत करने का काम करते हैं। मशहूर शायर अकबर इलाहाबादी ने अपने इस शेर में बहुत सही तरीके से पत्रकारिता की भूमिका की बात कही है–खींचो न कमानों को न तलवार निकालो जब तोप मुक़ाबिल हो तो अख़बार निकालोमैं भी एक कलम का सिपाही हूँ और पत्रकारिता से जुड़ा हुआ हूँ। मुझे साहित्य में भी रुचि है । मैं एक समतामूलक समाज बनाने के लिये तत्पर हूँ।