पहले डोज का टारगेट पूरा, वैक्सीनेशन को लेकर 10 लाख से ज्यादा आबादी वाले जिलों में Indore नंबर वन

इंदौर 10 लाख से ज्यादा आबादी वाले जिलों में वैक्सीनेशन के फर्स्ट डोज के टारगेट को लेकर नंबर 1 आया है।

fiirst dose vaccination

इंदौर, आकाश धोलपुरे। मध्य प्रदेश (Madhya Pradesh) की आर्थिक राजधानी इंदौर (Indore) नित नए आयामों को पार कर रही है। चाहे स्वच्छता की बात हो या फिर वैक्सीनेशन (vaccination) की। हर मामले में इंदौर नंबर 1 का ताज पहने हुए है। और इसी के चलते इंदौर 10 लाख से ज्यादा आबादी वाले जिलों में वैक्सीनेशन के फर्स्ट डोज के टारगेट को लेकर नंबर 1 आया है।

यह भी पढ़ें…Ashoknagar : नहाते समय कुए में डूबने से युवक की मौत, विधायक ने 4 लाख मुआवजा देने का किया ऐलान

दरअसल, कोरोना (corona) की पहली व दूसरी लहर के दौरान कोविड-19 की रडार पर रह चुके इंदौर ने अब एक नया मुकाम हासिल कर एक अलग कैटेगरी में नंबर-1 का स्थान पाया है। बतादें कि कोरोना की दूसरी लहर के दौरान इंदौर में जमकर हड़कम्प मच गया था। वहीं इसके पहले शुरू हुए वैक्सीनेशन के मामले में अब इंदौर जिला देश में सरताज बन गया है। आज इंदौर ने 10 लाख से अधिक आबादी वाले देश के सभी जिलों को पीछे छोड़ते हुए तय किये गए वैक्सीनेशन के आंकड़े को भी पार कर दिया है। इंदौर जिले के लोगो की जागरूकता, स्वास्थ्य विभाग का शक्तिशाली अमला, मजबूत प्रशासनिक पक्ष और वैक्सीनेटर्स सहित सामाजिक संगठनों की मेहनत के चलते 28,07,559 के टारगेट को पार कर 28,08,212 लोगो को कोवैक्सिन (covaxin) अथवा कोविशील्ड (Covishield) की पहली डोज अगस्त माह के अंतिम दिन तक लग चुकी है।

सीएम शिवराज (CM Shivraj) ने हाल ही टीकाकरण की नोडल एजेंसी नगर निगम और प्रशासन को निर्देश दिए थे कि वैक्सीन की पहली डोज का लक्ष्य पूरा किया जाए। इधर, इंदौर निगमायुक्त प्रतिभा पाल ने जिले को मिली सफलता का श्रेय आम जनता को देते हुए कहा कि वैक्सिन की दूसरी डोज को लेकर भी सभी तैयार है। वहीं इंदौर कलेक्टर मनीष सिंह ने इस मौके पर कहा कि इन्दौर ज़िले के सम्पूर्ण नागरिकों, जनप्रतिनिधियों व मीडिया कर्मियों और टीकाकरण कार्य में संलग्न सभी शासकीय सेवकों को इसका श्रेय देते हुए बधाई दी है।

यह भी पढ़ें… MP : जेल विभाग में बड़े पैमाने पर तबादले, देखिये लिस्ट