Indore News : बेटी को भगाकर ले गया प्रेमिका का भाई, युवक ने किया सुसाइड।

सुसाइड नोट के आधार पर पुलिस ने मर्ग कायम कर जांच शुरु कर दी है।

इंदौर, आकाश धौलपुरे। इंदौर (indore) के आजाद नगर थाना क्षेत्र में अजब प्रेम की गजब कहानी का मामला सामने आया है। दरअसल, जिस युवक ने एक महिला के साथ प्रेम संबंध बनाए थे उसी ने उस महिला का ही भाई युवक की नाबालिग बेटी को भगाकर ले गया। जिसके बाद युवक ने एक सुसाइड नोट छोड़कर अपने घर मे फांसी लगाकर जान दे दी।बताया जा रहा है कि पेंटर का काम करने वाले 36 वर्षीय युवक विष्णु पिता हरिप्रसाद चौहान ने फांसी लगाकर अपनी जान दे दी। आजाद नगर पुलिस के मुताबिक युवक ने फांसी लगाकर जान दी है। वही सुसाइड नोट के आधार पर पुलिस ने मर्ग कायम कर जांच शुरु कर दी है।

Indore News : बेटी को भगाकर ले गया प्रेमिका का भाई, युवक ने किया सुसाइड।

यह भी पढ़े…RBI ने किया रेपो रेट में बड़ा बदलाव, महंगे होंगे लोन, जाने क्या होंगे फायदे और नुकसान

वही सुसाइड के इस मामले में ये बात निकलकर सामने आ रही है कि मूसाखेड़ी में रहने वाले विष्णु का किसी महिला से अवैध प्रेम संबंध पिछले 3 वर्षों से चल रहा था। वही एक साल पहले ही महिला का भाई उसकी 14साल की बेटी को भगाकर ले गया था। महिला प्रेम जाल में फंसकर जब मृतक को इस बात का अहसास हुआ कि उसके साथ गलत हुआ है तो उसने सुसाइड नोट में मौत के जिम्मेदार लोगों के नाम लिखकर फांसी लगा ली। मौत से पहले सुसाइड नोट में महिला मित्र का जिक्र करते हुए महिला पर प्रताड़ना का आरोप लगाया। वही अपनी बच्ची के अपहरण का जिक्र भी भी किया।

यह भी पढ़े…MP में सरकारी नौकरी पाने का आखरी मौका, 322 पदों पर निकली भर्ती, लास्ट डेट नजदीक, जल्द करें Apply

युवक ने सुसाइड नोट में लिखा कि मैं विष्णु चौहान सुसाइड कर रहा हूं। मेरी महिला मित्र रीना जो कि बिचोली मर्दाना में रहती है। उसने मुझे तीन साल तक इस्तेमाल किया। उसका भाई मेरी 13 साल की बच्ची को अपने साथ गांव ले गया। ओर रीना ने मुझे बातो में लगाकर किसी तरह की कानूनी कारवाई नही करने दी। अब उसे अपनी इज्जत याद आ गई। मेरी मौत के मामले में रीना मालती उसका पति सुरेश मालती,भाई दिनेश, राधे और करण उसके मम्मी पापा धर्मा बाई ओर आत्माराम है। इन्हें सजा मिलना चाहिए। मुझे सुनील अंडा को सवा लाख रूपये देना है। जिसमें मेरा मकान बेचकर उसे रूपये दे दिए जाए। शासन से मेरा अनुरोध है कि मेरे पिता ओर पत्नी को कोई तकलीफ ना दे।