Indore News : पुलिस ने शातिर चोरों के गिरोह का किया पर्दाफाश, पांच सदस्यों को पकड़ा

यह गैंग बड़े-बड़े आयोजन स्थलों को अपना निशाना बनाती थी। इसमें पुलिस ने एक ही परिवार के पांच सदस्यों को पकड़ा है। जिसमें महिलाएं व नाबालिग बच्चे भी शामिल है।

Amit Sengar
Published on -
indore police

Indore News : इंदौर के थाना खजराना पर 30 जून को चोरी की घटना हुई थी घटना में फरियादी ने रिपोर्ट दर्ज कराई थी कि मैंने दस्तूर डीलाईट गार्डन पर शादी का कार्यक्रम होने से अपना साउण्ड सिस्टम लगाया था जिसमे से अगले दिन देखा तो जेबीएल मानीटर 04 नग, स्टुडियो मास्टर डीजे 2500 एक नग,एलईडी पार 05 नग,मेटल लाईट 02 नग कीमत करीबन 5 लाख रुपये का माल चोरी हो गया है। फरियादी की रिपोर्ट पर थाना खजराना पर अज्ञात चोर के खिलाफ अपराध दर्ज करते हुए विवेचना मे लिया गया।

क्या है पूरा मामला

फरियादी द्वारा खजराना थाने पर दर्ज कराए गए चोरी के मुकदमे के बाद घटना का खुलासा करने के उद्देश्य से सहायक पुलिस आयुक्त अनुभाग खजराना कुंदन मण्डलोई के मार्गदर्शन में थाना प्रभारी थाना खजराना मनोज सिंह सेंधव व्दारा एक टीम गठित कर घटना के अज्ञात आरोपियों की धरपकड़ करने के लिए एक टीम का गठन किया गया।

पुलिस टीम आरोपियों की धरपकड हेतु रवाना होकर घटना स्थल के आसपास सीसीटीवी फुटेज चैक करते हुए चोरों के संबंध मे पुख्ता जानकारी मिली जिस आधार पर मुखबिर तंत्र सक्रिय किया गया। मुखबिर सूचना और तकनीकी साक्ष्य के आधार पर पुलिस टीम द्वारा त्वरित कार्रवाई करते हुए आरोपियों को घेराबंदी कर पुलिस अभिरक्षा मे लेकर पुछताछ करने पर आरोपियों से घटना मे चोरी गया मश्रुका बरामद कर लिया गया और पकड़े गए आरोपियों के खिलाफ विधिवत कार्यवाही की जा रही है। बताया जा रहा है कि एक ही परिवार के पांच लोगों को इस घटना में पुलिस ने गिरफ्तार किया है जिसमें महिलाएं और बच्चे भी शामिल हैं पकड़े गए आरोपियों की जानकारी देते हुए एडिशनल डीसीपी अमरेंद्र सिंह ने बताया कि आरोपी की गैंग सुबह सुबह कचरा बीनने के लिये बडे बडे आयोजन स्थलों व प्रतिष्ठानों के आसपास घूमते थे तथा मौका पाकर चोरी की घटना को अंजाम देते थे।

आरोपियों के पकड़े जाने के बाद पुलिस ने चोरी किया हुआ पूरा माल बरामद किया है। जिसकी बाजार कीमत 5 लाख रुपये है।

इंदौर से शकील अंसारी की रिपोर्ट


About Author
Amit Sengar

Amit Sengar

मुझे अपने आप पर गर्व है कि में एक पत्रकार हूँ। क्योंकि पत्रकार होना अपने आप में कलाकार, चिंतक, लेखक या जन-हित में काम करने वाले वकील जैसा होता है। पत्रकार कोई कारोबारी, व्यापारी या राजनेता नहीं होता है वह व्यापक जनता की भलाई के सरोकारों से संचालित होता है। वहीं हेनरी ल्यूस ने कहा है कि “मैं जर्नलिस्ट बना ताकि दुनिया के दिल के अधिक करीब रहूं।”

Other Latest News