Indore News : पुलिस के हत्थे चढ़े शातिर चोर, 16 बाइकें हुई बरामद, बिल्डिंग के बाहर पार्क करते ही उड़ा देते थे बाइक

पुलिस ने गोकुल और हरिओम के गिरफ्तार कर उनकी निशानदेही पर चोरी के 16 बाइकें बरामद की, आरोपियों ने शहर के अलग-अलग थाना क्षेत्र से दोपहिया वाहन चोरी करना कबूल किया। वही अब पुलिस आरोपियों से शहर में हुई अन्य चोरियों के बारे में भी पूछताछ कर रही है।

Amit Sengar
Published on -
indore police

Indore News : मध्य प्रदेश की आर्थिक राजधानी इंदौर की तुकोगंज पुलिस ने एक वाहन चोर गिरोह का पर्दाफाश किया है। पुलिस ने दो आरोपियों के पास से 16 दोपहिया बरामद किए है। पुलिस अभी आरोपियों से पूछताछ कर रही है। पुलिस के पास शिकायतें आ रही थी कि एमजी रोड और आसपास की बिल्डिंग में बाइक चोरी की वारदातें बढ़ी हैं।

क्या है पूरा मामला

एडीशनल डीसीपी झोन 3 राम स्नेही मिश्रा ने जानकारी देते हुए बताया कि तुकोगंज थाना क्षेत्र में लगातार हो रही वाहन चोरी को देखते हुए एक टीम का गठन किया गया था। पुलिस टीम द्वारा क्षेत्र में लगे कई सीसीटीवी फुटेज खंगाले गए लेकिन कोई पुलिस को कोई ख़ास कमियाबी नही मिली तब तुकोंगज थाना प्रभारी ने अपने स्तर पर मुखबिर तैयार किए और चोरों की निगरानी कराई गई पुलिस टीम को मुखबिर से सूचना मिली की एक पुराना वाहन चोर पिछले कई दिनों से थाना क्षेत्र के आसपास घूमता दिखाई दिया है।

indore news

पुलिस ने मुखबिर की सूचना पर ग्राम पिपलोदा थाना देपालपुर निवासी हरिओम पिता दूल्हे सिंह मकवाना के हिरासत में लिया और सख्ती से पूछताछ करने पर आरोपी ने बताया की इंदौर के सेल्बी हॉस्पिटल और 56 दुकान के आसपास से अपने साथियों की साथ कई दोपहिया वाहन चुराना कबूल किया आरोपी हरिओम ने अपने एक साथी गोकुल पिता कमल गौड़ निवासी कटगोदा का भी नाम बताया तुकोगंज पुलिस ने गोकुल और हरिओम के गिरफ्तार कर उनकी निशानदेही पर चोरी के 16 बाइकें बरामद की, आरोपियों ने शहर के अलग-अलग थाना क्षेत्र से दोपहिया वाहन चोरी करना कबूल किया। वही अब पुलिस आरोपियों से शहर में हुई अन्य चोरियों के बारे में भी पूछताछ कर रही है।

इंदौर से शकील अंसारी की रिपोर्ट


About Author
Amit Sengar

Amit Sengar

मुझे अपने आप पर गर्व है कि में एक पत्रकार हूँ। क्योंकि पत्रकार होना अपने आप में कलाकार, चिंतक, लेखक या जन-हित में काम करने वाले वकील जैसा होता है। पत्रकार कोई कारोबारी, व्यापारी या राजनेता नहीं होता है वह व्यापक जनता की भलाई के सरोकारों से संचालित होता है। वहीं हेनरी ल्यूस ने कहा है कि “मैं जर्नलिस्ट बना ताकि दुनिया के दिल के अधिक करीब रहूं।”

Other Latest News