इंदौर : डकैती का था प्लान, पुलिस ने किया पर्दाफाश

आरोपी सोनू उर्फ सोनिया गिरोह का मुख्य सरगना है उस पर एक दर्जन से भी अधिक अपराध दर्ज है।

इंदौर,आकाश धौलपुरे। इंदौर में पुलिस ने एक बड़ी वारदात को अंजाम देने से पहले ही बदमाशों को गिरफ्तार कर लिया है। दरअसल, जेल में हुई दोस्ती के बाद रिहा हुए बदमाशों ने अपना गिरोह बनाकर डकैती की योजना बना रहे थे। इसी दौरान मुखबिर की सूचना पर पुलिस ने हथियार बंद बदमाशों को घेराबंदी कर पुलिस ने अपनी गिरफ्त में लिया है। आरोपियों से देशी पिस्टल व जिंदा कारतूस और धारदार हथियार भी बरामद किए हैं। बदमाश व्यापारी के घर को निशाना बनाने की फ़िराक में थे मगर वह उससे पहले ही पकड़ लिए गए। आरोपी सोनू उर्फ सोनिया गिरोह का मुख्य सरगना है उस पर एक दर्जन से भी अधिक अपराध दर्ज है।

यह भी पढ़े… Murena News: चोरों का पीछा कर रहे युवक की मौत, भैंसों की चोरी रोकने का कर रहा था प्रयास

हम आपको बता दें कि मामला इन्दौर के बाणगंगा थाना क्षेत्र के भागीरथपुरा का है जहां खाली पड़ी फैक्ट्री के पास एक मैदान में कुछ बदमाश धारदार हथियारो से लैस होकर किसी बड़ी वारदात को अंजाम देने वाले थे। तभी वहां से गुजर रहे राहगीर ने तत्काल इसकी जानकारी पुलिस को दी। सूचना मिलने पर पुलिस ने मौके पर पहुंच कर घेराबंदी की और पांच आरोपियों को अपनी गिरफ्त में लिया है। पकड़े गए आरोपियों से एक देसी पिस्टल जिंदा कारतूस और धारदार हथियार बरामद हुए हैं। पूछताछ में आरोपियो ने बताया को वो पास में ही बने एक व्यापारी के मकान में डकैती बनाने की योजना बना रहे थे। गिरोह से पूछताछ में सामने आया कि सभी की मुलाकात जेल में हुई थी। रिहा होने के बाद सोनू उर्फ सोनिया ने अपना पूरा गिरोह तैयार किया और एक बड़ी वारदात को अंजाम देने से पहले ही वह पुलिस के हत्थे चढ़ गया हालांकि आरोपियों पर पूर्व में भी कई अपराधिक रिकॉर्ड दर्ज है।

इंदौर : डकैती का था प्लान, पुलिस ने किया पर्दाफाश

यह भी पढ़े… SBI ग्राहकों को लगेगा बड़ा झटका! 1 फरवरी से बढ़ेंगे इस सर्विस के चार्ज

बाणगंगा थाना के जांच अधिकारी स्वराज डाबी के मुताबिक पुलिस पकड़े गए आरोपियों से अन्य वारदातों के संबंध में भी पूछताछ कर रही है।